जीवन मंत्र
Home >> Jeevan Mantra >> Jyotish >> Desh Duniya
  • मलमास में नहीं होंगी शादियां, जानिए 2015 में कब-कब हैं विवाह के मुहूर्त
    उज्जैन। कल (16 दिसंबर, मंगलवार) से मल मास प्रारंभ हो चुका है, जो 14 जनवरी 2015 तक रहेगा। ज्योतिषियों के अनुसार इस दौरान विवाह आदि शुभ कार्य नहीं होंगे। इसलिए अब विवाह बंधन में बंधने के इच्छुक युवक-युवतियों को एक महीने का इंतजार करना पड़ेगा। साल 2015 में 16 जनवरी को शादी के लिए सबसे पहला मुहूर्त आएगा। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. श्यामनारायण व्यास के मुताबिक 6 व 7 दिसंबर वर्ष 2014 में विवाह के अंतिम श्रेष्ठ मुहूर्त थे। 16 दिसंबर को सूर्य के धनु राशि में प्रवेश करते ही मलमास शुरू हो चुका है। मलमास में शादी-ब्याह...
    December 17, 08:59 AM
  • पेशावर में आतंकी हमला- सूर्य-शनि के कारण हो रहे हैं आतंकी हमले
    फोटो- बच्चे के शव को ताबूत में ले जाते स्वास्थ्यकर्मी। उज्जैन। 15 दिसंबर को आस्ट्रेलिया में एवं 16 दिसंबर को पाकिस्तान के पेशावर में आतंकी हमले हुए हैं और कई लोग अकाल मृत्यु के शिकार हो गए हैं। इन आतंकी हमलों के संबंध में उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा ने बताया कि इस समय सूर्य और शनि की स्थिति अशुभ योग बना रही है। सूर्य और शनि के कारण ही आतंकी हमलों के योग बने हैं। पं. शर्मा के अनुसार इस समय मंगल के स्वामित्व वाली राशि वृश्चिक में शत्रु शनि स्थित है। साथ ही, शनि का शत्रु सूर्य भी...
    December 16, 06:22 PM
  • 2014 का अंतिम पुष्य योग आज, जानिए क्यों खास है ये नक्षत्र व उपाय
    उज्जैन।आज (10 दिसंबर, बुधवार) साल 2014 का अंतिम पुष्य योग है। बुधवार को पुष्य नक्षत्र का योग होने से यह बुध-पुष्य कहलाएगा। इसके बाद 6 जनवरी 2015 को मंगलवार होने से मंगल-पुष्य का योग बनेगा। उज्जैन के ज्योतिषी पंडित विनय भट्ट के अनुसार बुधवार को पुष्य नक्षत्र का संयोग मातंग योग बनाता है। इस योग में कुछ विशेष उपाय किए जाएं तो वंश वृद्धि व धन वृद्धि होती है। साथ ही व्यापार में भी लाभ होता है। कुछ लोग पुष्य शब्द को पुष्प शब्द से निकला हुआ मानते हैं। पुष्प शब्द अपने आप में सौंदर्य, शुभता तथा प्रसन्नता के साथ...
    December 10, 04:45 AM
  • क्या सचमुच पत्थर में भगवान का वास होता है?
    उज्जैन।हमारे शास्त्रों में ईश्वर को निराकार बताया गया है। यानी कि न तो उनका कोई शरीर है ना ही आकार। ईश्वर केवल एक शक्ति पुंज है। इस ईश्वरीय शक्ति पुंज को हर जगह, हर वस्तु में पहुंचने की शक्ति प्राप्त है। यही कारण है कि जब हम पत्थर को भी भगवान मानकर पूजने लगते है तो वो ईश्वरीय शक्ति उस पत्थर में आकर बस जाती हैं। यह शास्त्रों का कथन है कि किसी पत्थर में बारह वर्ष तक किसी एक ईश्वरीय शक्ति का पूजन करने से पत्थर में बिना मंत्रों के प्राण-प्रतिष्ठा हो जाती है। 12 वर्षों तक पूजन करने से न केवल पत्थर...
    November 29, 01:53 PM
  • पंचक 2 दिसंबर तक, जानिए कौन से 5 काम पंचक में न करें
    उज्जैन। अपने जीवन में कभी न कभी हम सभी पंचक के बारे में जरूर सुनते हैं। भारतीय ज्योतिष में इसे अशुभ समय माना गया है। पंचक के दौरान कुछ विशेष कार्य करने की मनाही है। भारतीय ज्योतिष के अनुसार जब चन्द्रमा कुंभ और मीन राशि पर रहता है, तब उस समय को पंचक कहते हैं। यानी घनिष्ठा से रेवती तक जो पांच नक्षत्र (धनिष्ठा, शतभिषा, पूर्वा भाद्रपद, उत्तरा भाद्रपद एवं रेवती) होते हैं, उन्हें पंचक कहा जाता है। इस बार पंचक का प्रारंभ 28 नवंबर, शुक्रवार को शाम 07 बजकर 34 मिनिट से होगा, जो 02 दिसंबर, मंगलवार को रात 12 बजकर 43...
    November 29, 12:07 PM
  • खुद का पिंडदान कर बनते हैं नागा साधु, जानिए क्या हैं इनके नियम
    उज्जैन। कई लोग साधु-संतों को देखकर कह देते हैं कि इन्हें दुनिया से क्या? साधु बनना तो बहुत आसान है। मगर हकीकत ये है कि साधु, सन्यासी बनने की राह इतनी कठिन होती है कि अच्छे-अच्छों के पसीने छूट जाएं। नागा साधु बनने की प्रक्रिया आसान नहीं होती। उन्हें इतने कठोर नियम-कायदों और अनुशासन का पालन करना पड़ता है, जितने हमारे सामान्य जीवन में नहीं होते। जूना अखाड़े के महंत विजयगिरि महाराज के मुताबिक नागाओं को सेना की तरह तैयार किया जाता है। सेना की ट्रेनिंग से भी ज्यादा सख्त ट्रेनिंग नागा साधुओं की...
    November 21, 08:25 AM
  • आज आधा दर्जन शुभ योग: पुष्य, लक्ष्मी, अमृत के साथ राज योग भी
    उज्जैन। ज्योतिष के नजरिए से इस बार 13 नवंबर, गुरुवार का दिन बहुत ही खास रहेगा क्योंकि इस दिन आधा दर्जन शुभ योग बन रहे हैं। उज्जैन के पं. विनय भट्ट के अनुसार 13 नवंबर को गुरु पुष्य, सर्वार्थ सिद्धि, अमृत सिद्धि, गजकेसरी, लक्ष्मी योग के साथ ही राज योग भी बन रहा है। एक दिन में इतने सारे शुभ योग बनना दुर्लभ है। कई सालों में ऐसा एक बार होता है। पं. भट्ट के अनुसार 12 नवंबर, बुधवार को शाम 07 बजकर 56 मिनट पर पुनर्वसु नक्षत्र के समाप्त होते ही पुष्य नक्षत्र शुरू होगा, जो अगले दिन 13 नवंबर रात्रि 10 बजकर 10 मिनट तक रहेगा।...
    November 13, 10:53 AM
  • साल 2043 तक 6 बार रविवार व 4 बार शनिवार को आएगी दिवाली
    उज्जैन। कार्तिक मास की अमावस्या को दीपावली का पर्व मनाया जाता है। यह हिंदुओं का सबसे बड़ा त्योहार है। दीपावली पर्व धनतेरस से भाई दूज तक मनाया जाता है। दीपावली पर्व के हर दिन का अपना अलग महत्व है। इस बार ये पर्व 23 अक्टूबर, गुुरुवार को मनाया जाएगा। हिंदू पंचांग व अंग्रेजी कैलेंडर में भिन्नता होने के कारण दीपावली का पर्व कभी अक्टूबर तो कभी नवंबर महीने में मनाया जाता है। अंग्रेजी कैलेंडर पर नजर डाले तो पता चलता है कि अगले 29 सालों (सन 2043) तक दीपावली का पर्व सबसे ज्यादा 6 बार रविवार व 4 बार शनिवार को...
    October 17, 06:30 PM
  • आज 74 साल बाद चंद्रग्रहण पर बनेगा दुर्लभ योग, जानें खास बातें व राशिफल
    उज्जैन। आज (8 अक्टूबर, बुधवार) भारत के विभिन्न हिस्सों व अन्य देशों में खग्रास चंद्रग्रहण होगा। जिन स्थानों पर शाम 06 बजकर 04 मिनट के पहले चंद्रोदय होगा, वहीं यह ग्रहण दिखाई देगा। यह ग्रहण मीन राशि में चंद्र व केतु की युति में होगा। ये दुर्लभ योग 74 साल बाद बना है। इस ग्रहण का असर देश-दुनिया में अलग-अलग रूप से देखने को मिलेगा। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. अमर डिब्बावाला के अनुसार इस बार 8 अक्टूबर को मीन राशि में खग्रास चंद्रग्रहण 74 साल बाद हो रहा है। इसके पहले ये योग 15 अक्टूबर 1940 में बना था। उस समय भी...
    October 8, 04:55 PM
  • चंद्रग्रहण 8 को: जानिए कहां दिखेगा-कहां नहीं, ये होगा राशियों पर असर
    उज्जैन। इस बार शरद पूर्णिमा के दूसरे दिन चंद्रग्रहण का योग बन रहा है। यह चंद्रग्रहण 8 अक्टूबर, बुधवार को होगा। इस दिन चंद्रमा मीन राशि के रेवती नक्षत्र में रहेगा। चंद्रोदय के समय ये ग्रहण होगा, जो भारत के पूर्वोत्तर एवं मध्य क्षेत्र में बहुत समय के लिए दिखाई देगा। जिन स्थानों पर शाम 6 बजकर 04 मिनिट के पहले चंद्रोदय होगा, वहीं यह ग्रहण दिखाई देगा। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार भारत के डिब्रूगढ़ में सबसे लंबा चंद्रग्रहण (1 घंटा 18 मिनिट) दिखाई देगा तथा शिलांग में यह ग्रहण 1 घंटा 5...
    October 6, 04:06 PM
  • शनिवार की रात से शुरू हो चुका है पंचक, जानिए किन बातों का रखें ध्यान
    उज्जैन। अपने जीवन में कभी न कभी हम सभी पंचक के बारे में जरूर सुनते हैं। भारतीय ज्योतिष में इसे अशुभ समय माना गया है। पंचक के दौरान कुछ विशेष कार्य करने की मनाही है। भारतीय ज्योतिष के अनुसार जब चन्द्रमा कुंभ और मीन राशि पर रहता है, तब उस समय को पंचक कहते हैं। यानी घनिष्ठा से रेवती तक जो पांच नक्षत्र (धनिष्ठा, शतभिषा, पूर्वा भाद्रपद, उत्तरा भाद्रपद एवं रेवती) होते हैं, उन्हें पंचक कहा जाता है। इस बार पंचक का प्रारंभ 4 अक्टूबर, शनिवार को रात 03 बजकर 34 मिनिट से हो चुका है, जो 9 अक्टूबर, गुरुवार को रात 08 बजकर...
    October 5, 11:40 AM
  • ज्योतिष से जानिए, क्या रंग लाएगी नरेंद्र मोदी और ओबामा की मुलाकात
    (फाइल फोटो- भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी) उज्जैन।भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका पहुंच चुके हैं। भारत और अमेरिका के साथ ही पूरी दुनिया की नजर नरेंद्र मोदी और बराक ओबामा की मुलाकात पर टिकी हुई है। सभी जानना चाहते हैं कि इन दो बड़े नेताओं की मुलाकात के बाद भारत की तरक्की की राह आसान होगी या नहीं, अमेरिका भारत की शक्ति बढ़ाने में मदद करेगा या नहीं, भविष्य में इन दोनों देशों के बीच व्यापार-व्यवसाय में किस प्रकार के बदलाव आने वाले हैं। हालांकि इन सभी बातों का जवाब कुछ दिनों बाद मिल...
    September 27, 12:51 PM
  • सितंबर अंत में मोदी जाएंगे अमेरिका, अभी जानिए कैसी रहेगी ये यात्रा
    (फाइल फोटो- भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिका के रास्ट्रपति बराक ओबामा)   उज्जैन। इस माह के अंत में सितंबर आखिरी सप्ताह में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका यात्रा पर जा रहे हैं। पूर्व में अमेरिकी सरकार ने नरेंद्र मोदी के अमेरिका आगमन पर पाबंदी लगा दी थी, लेकिन अब उसी देश में मोदी ससम्मान जा रहे हैं। इस वजह से मोदी की अमेरिका यात्रा पर देश-दुनिया की नजर टिकी हुई है। शक्तिशाली देश अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा और नरेंद्र मोदी के बीच होने वाली वार्ता, दोनों देशों के साथ...
    September 13, 07:55 PM
  • आज से ही शुरू होंगे श्राद्ध, 4 दिन बनेगा सर्वार्थसिद्धि योग
    उज्जैन। इस बार 8 सितंबर को अनंत चतुर्दशी पर्व के साथ ही श्राद्ध भी शुरू हो जाएंगे।। इस दिन दोपहर में पूर्णिमा का श्राद्ध किया जाएगा। 9 सितंबर को प्रतिपदा से तिथिवार क्रम से श्राद्ध चलेंगे और 23 सितंबर को सर्व पितृ अमावस्या के साथ श्राद्ध पक्ष का समापन होगा। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. आनंदशंकर व्यास के अनुसार 8 सितंबर, सोमवार को चतुर्दशी तिथि दोपहर तक है। इसके बाद पूर्णिमा लग जाएगी। चूंकि शास्त्रों में श्राद्ध के लिए दोपहर की तिथि मान्य है। इसलिए चतुर्दशी के दिन पूर्णिमा का श्राद्ध किया जा...
    September 8, 11:33 AM
  • रविवार की शाम से शुरू हो चुका है पंचक, इन बातों का रखें ध्यान
    फोटो- ग्रह-नक्षत्रों का प्रतीकात्मक चित्र उज्जैन। अपने जीवन में कभी न कभी हम सभी पंचक के बारे में जरूर सुनते हैं। भारतीय ज्योतिष में इसे अशुभ समय माना गया है। पंचक के दौरान कुछ विशेष कार्य करने की मनाही है। भारतीय ज्योतिष के अनुसार जब चन्द्रमा कुंभ और मीन राशि पर रहता है, तब उस समय को पंचक कहते हैं। यानी घनिष्ठा से रेवती तक जो पांच नक्षत्र (धनिष्ठा, शतभिषा, पूर्वा भाद्रपद, उत्तरा भाद्रपद एवं रेवती) होते हैं, उन्हे पंचक कहा जाता है। इस बार पंचक का प्रारंभ 7 सितंबर, रविवार को शाम 07 बजकर 22 मिनिट से...
    September 8, 11:14 AM
  • 79 साल बाद सबसे अधिक चमकेगा मंगल, जानिए आपकी राशि पर असर
    उज्जैन। लाल ग्रह मंगल 79 वर्ष के बाद सबसे अधिक चमकीला नजर आएगा। 25 से 27 अगस्त तक आसमान में यह अद्भुत खगोलीय घटना होगी, जिसे टेलीस्कोप के जरिए आम लोग भी देख सकेंगे। मंगल पृथ्वी के काफी निकट रहेगा और शनि की इस पर दृष्टि होने से यह सबसे अधिक चमकीला दिखाई देगा। इसके पहले 1935 में ऐसी घटना होने की जानकारी मिली है। जीवाजी वेधशाला उज्जैन के अधीक्षक डॉ. राजेंद्र प्रसाद गुप्त ने कहा इस अवधि में चमकीला तारा स्पाइक भी मंगल के आसपास रहेगा जिससे मंगल की चमक और बढ़ेगी। उज्जैन के पंचांगकर्ता एवं ज्योतिषाचार्य पं....
    August 18, 01:21 PM
  • 10 Aug को राखी, है विशेष योग, राखी परंपरा के रोचक किस्से जो इतिहास बन गए
    उज्जैन​। रक्षाबंधन का त्योहार श्रावण मास की पूर्णिमा को मनाया जाता है। इस वर्ष रक्षाबंधन पर्व 10 अगस्त को मनाया जाएगा। इस रक्षाबंधन पर आयुष्मान योग बन रहा है। इस शुभ मुहूर्त में राखी बांधने से भाइयों की आयु में वृद्धि होगी। रक्षाबंधन मनाने का सही समय ज्योतिष में श्रवण नक्षत्र के पहले दो प्रहर छोड़कर दोपहर में माना गया है। इस बार ये हैं शुभ मुहूर्त- इस बार रक्षाबंधन के लिए दोपहर 1.30 से 3 बजे तक व शाम 6.30 से 7.30 तक का शुभ रहेगा। - वहीं शाम 7.30 से रात 9 बजे तक अमृत और रात 9 से 10.30 बजे तक चर का चौघडिया रहेगा। -...
    August 7, 01:45 PM
  • आज है शनि की साढ़ेसाती या ढय्या से जूझ रहे लोगों के लिए विशेष दिन, जानें क्यों?
    उज्जैन। कल यानी शनिवार 26 जुलाई को अमावस्या है। इसीलिए कल शनिश्चरीअमावस्या होने के साथ ही सावन की अमावस्या जिसे हरियाली अमावस्या कहते हैं भी है। इसी कारण कल के दिन शनि से संबंधित दान कालसर्प पूजन के लिए विशेष रहेगा। कल अमावस्याहोने के कारण यह तिथि दोगुना पुण्य देने वाली हो गई है। सावन माह में वैसे भी शिव और शक्ति का पूजन सुख व समृद्धि देने वाला माना गया है। इसीलिए कल के दिन शनि पूजन के साथ-साथ भगवान शिव के रुद्राभिषेक का भी बहुत महत्व है। इस बार दोपहर बाद तीन बजे से पुष्य नक्षत्र भी लग रहा है,...
    July 26, 12:17 PM
  • पंचक आज रात से, 5 दिन तक ध्यान रखें इन 5 बातों का
    फोटो- ग्रह-नक्षत्रों का डेमो पिक उज्जैन।अपने जीवन में कभी न कभी हम सभी पंचक के बारे में जरूर सुनते हैं। भारतीय ज्योतिष में इसे अशुभ समय माना गया है। पंचक के दौरान कुछ विशेष कार्य करने की मनाही है। भारतीय ज्योतिष के अनुसार जब चन्द्रमा कुंभ और मीन राशि पर रहता है, तब उस समय को पंचक कहते हैं। यानी घनिष्ठा से रेवती तक जो पांच नक्षत्र (धनिष्ठा, शतभिषा, पूर्वा भाद्रपद, उत्तरा भाद्रपद एवं रेवती) होते हैं, उन्हें पंचक कहा जाता है। इस बार पंचक का प्रारंभ 14 जुलाई, सोमवार को रात 03 बजकर 05 मिनिट से होगा, जो 19...
    July 14, 06:00 AM
  • बारिश कराने के लिए लोग करते हैं ऐसे टोटके, लौट लगाते हैं कीचड़ में
    फोटो- कीचड़ में लौट लगाते व्यक्ति का डेमो पिक। उज्जैन। इस वर्ष अब तक देश के अधिकांश हिस्सों में बारिश नहीं हुई है, जिससे कई राज्य सूखे की चपेट में आ गए हैं। मौसम विभाग और कई ज्योतिषियों ने भी कम बारिश की ही भविष्यवाणियां की हैं। सूखे की मार से बचने के लिए लोग कई प्रकार के अजीब टोटके कर रहे हैं, ताकि इंद्र देव की प्रसन्नता से बारिश हो जाए। भारत के अलग-अलग क्षेत्रों में बारिश कराने के लिए अजीबोगरीब टोटके करने की कई प्राचीन परंपराएं चली आ रही हैं।कई स्थानों पर बारिश के लिए गांव के वृद्धजन कीचड़ में...
    July 6, 12:05 AM
विज्ञापन
 

बड़ी खबरें

 
 

रोचक खबरें

विज्ञापन
 

बॉलीवुड

 
 

स्पोर्ट्स

 

बिज़नेस

 

जोक्स

 

पसंदीदा खबरें