Home >> Jeevan Mantra >> Jeene Ki Rah >> Chankaya Neeti
  • पानी पीते समय ध्यान रखें ये एक चाणक्य नीति, न होगा कब्ज और न होगा अपच
    उज्जैन। हमारे जीवन के लिए पानी अनमोल है और इसके बिना जीने की कल्पना भी नहीं की जा सकती है। पानी से शरीर को ऊर्जा मिलती है और इससे भोजन पचाने में भी सहायता मिलती है। वैसे तो पानी पीना स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक है, लेकिन कुछ परिस्थितियों में पानी से स्वास्थ्य को नुकसान भी हो सकता है। खाना खाने से ठीक पहले पानी पीने से पाचन शक्ति कमजोर होती है। आचार्य चाणक्य ने एक नीति में बताया है कि गलत समय पर पानी पीना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है। कुछ परिस्थितियां ऐसी हैं, जब पानी हमें नुकसान पहुंचाता...
    April 10, 07:57 AM
  • आपकी नौकरी कैसी भी हो, ये नीति ध्यान रखेंगे तो जरूर मिलेगा प्रमोशन
    उज्जैन। वेद व्यास द्वारा रचित महाभारत ग्रंथ में दिए गए सूत्र और प्रसंग आज भी श्रेष्ठ जीवन के लिए प्रेरणा देते हैं। महाभारत में कई महान पात्र हैं, इन महान पात्रों में एक पात्र ऐसा है जो दासी का पुत्र था। दासी पुत्र होते हुए भी महाभारत में इस पात्र की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। यह दासी पुत्र है कौरवों के महामंत्री विदुर। विदुर एक दासी के पुत्र थे, लेकिन उन्होंने अपनी नीतियों के बल पर इतिहास में श्रेष्ठ स्थान हासिल किया है। महामंत्री विदुर ने विदुर नीति नामक एक ग्रंथ की रचना भी की है। इस ग्रंथ में...
    April 6, 04:41 PM
  • स्त्री हो या पुरुष, अपने ऐसे काम कभी भी किसी को न बताएं
    उज्जैन। आचार्य चाणक्य ने कुछ बातें ऐसी बताई हैं जो हमेशा राज ही रखना चाहिए। ये बातें स्त्री और पुरुष दोनों को ही बर्बाद करने वाली हैं। यदि जाने-अनजाने इन बातों को या कामों को किसी पर जाहिर कर दिया जाता है तो भविष्य दुष्परिणाम झेलना पड़ सकता है। चाणक्य कहते हैं कि अर्थनाशं मनस्तापं गृहिणीचरितानि च। नीचवाक्यं चाऽपमानं मतिमान्न प्रकाशयेत्।। इस श्लोक में चाणक्य ने बताया है कि जीवन में हमें किन बातों को राज ही रखना चाहिए। आचार्य कहते हैं कि ऐसा कोई व्यक्ति नहीं है जिसे जीवन में कभी भी धन हानि का...
    April 3, 11:24 AM
  • चाणक्य ने बताया है किस अवस्था में कौन सी चीज कर सकती है बर्बाद
    उज्जैन।प्राचीन समय से ही पुरुषों के लिए स्त्री सुख सबसे अधिक महत्वपूर्ण रहा है। आज भी पुरुषों के लिए स्त्रियों का आकर्षण सर्वाधिक बना हुआ है। पुरुष चाहे जवान हो या वृद्ध, उसके मन में स्त्रियों के लिए विशेष स्थान रहता है। आचार्य चाणक्य ने पुरुषों के लिए एक अवस्था ऐसी बताई है, जब उनके लिए स्त्री किसी विष के समान हो जाती है। ब्रह्मचारी थे चाणक्य आचार्य चाणक्य भारतीय इतिहास में विशेष स्थान रखते हैं। चाणक्य ने अपनी नीतियों के बल पर भारत को विदेशी शासक से सुरक्षित किया था। वे तक्षशिला...
    March 25, 06:27 PM
  • नीतियां- अगर एक शब्द से काम चले तो दो शब्द न बोलें
    उज्जैन। यहां जानिए शास्त्रों में बताई गई कुछ छोटी-छोटी नीतियां... जो व्यक्ति इन नीतियों का पालन करता है, वह निश्चित ही धनवान और सुखी बन सकता है... क्रोध को जीतने में जितना मौन सहायक है, उतनी और कोई वस्तु नहीं है। मौन सर्वोत्तम भाषण है। अगर एक शब्द से काम चले तो दो शब्द न बोलें। संपत्ति रहते हुए भी उसकी वृद्धि के लिए प्रयास करते रहना नीति निपुणता है। मगर सबसे धनवान वह है, जिसकी प्रसन्नता सबसे सस्ती है। सुख के लिए संघर्ष करने का अर्थ है- दुख। दुख के बिना सुख नहीं मिल सकता। फिर व्यर्थ ही मनुष्य सुख की...
    March 20, 12:33 PM
  • ऐसी अवस्था में पुरुष के लिए सुंदर स्त्री विष के समान होती है
    उज्जैन। प्राचीन समय से ही पुरुषों के लिए स्त्री सुख सबसे अधिक महत्वपूर्ण रहा है। आज भी पुरुषों के लिए स्त्रियों का आकर्षण सर्वाधिक बना हुआ है। पुरुष चाहे जवान हो या वृद्ध, उसके मन में स्त्रियों के लिए विशेष स्थान रहता है। आचार्य चाणक्य ने पुरुषों के लिए एक अवस्था ऐसी बताई है, जब उनके लिए स्त्री किसी विष के समान हो जाती है। ब्रह्मचारी थे चाणक्य आचार्य चाणक्य भारतीय इतिहास में विशेष स्थान रखते हैं। चाणक्य ने अपनी नीतियों के बल पर भारत को विदेशी शासक से सुरक्षित किया था। वे तक्षशिला...
    March 14, 04:59 PM
  • जब किसी पुरुष के साथ हों ये तीन बातें तो समझ लें उसकी किस्मत है खराब
    उज्जैन। अक्सर कई लोग छोटी-छोटी परेशानियों के कारण यह कहते हैं कि उनकी किस्मत खराब है। आमतौर पर किस्मत खराब होने से यही आशय होता है कि जैसा हमने सोचा है वैसा न हो तो किस्मत खराब हो जाती है। जबकि छोटी-छोटी परेशानियों की वजह से किस्मत खराब नहीं हो सकती है। आचार्य चाणक्य ने पुरुषों के लिए तीन ऐसी स्थितियां बताई हैं, जब वाकई में यही आभास होता है कि व्यक्ति की किस्मत खराब है। आचार्य कहते हैं कि... वृद्धकाले मृता भार्या बन्धुहस्ते गतं धनम्। भोजनं च पराधीनं त्रय: पुंसां विडम्बना:।। इस श्लोक में आचार्य...
    March 5, 12:05 AM
  • बुरे चरित्र वाली स्त्री का सबसे बड़ा शत्रु कौन होता है? जानिए खास बातें
    उज्जैन। पति-पत्नी का रिश्ता आपसी तालमेल पर ही निर्भर करता है। यदि तालमेल में कमी हो तो छोटी सी परेशानी भी बड़ा असर दिखा सकती है। कभी-कभी वैवाहिक जीवन में ऐसी परिस्थितियां निर्मित हो जाती हैं, जिनकी वजह से पति और पत्नी एक-दूसरे को ही शत्रु मानने लगते हैं। ऐसी परिस्थितियों के संबंध में आचार्य चाणक्य ने यह नीति बताई है... आचार्य चाणक्य कहते हैं कि... लुब्धानां याचक: शत्रु: मूर्खाणां बोधको रिपु:। जारस्त्रीणां पति: शत्रुश्चौराणां चंद्रमा रिपु:।। इस श्लोक में चाणक्य ने बताया है कि यदि कोई स्त्री बुरे...
    March 3, 11:12 AM
  • ध्यान रखेंगे ये नीति तो नहीं होगा कभी कोई नुकसान
    उज्जैन। चाणक्य नीति में कुछ ऐसे कार्य और आदतें बताई गई हैं, जो स्त्री हो या पुरुष दोनों को ही चौपट कर सकती हैं। जो लोग इन बातों का ध्यान नहीं रखते हैं, वे ना कभी सुखी हो पाते और ना ही पैसा बचा पाते हैं। आचार्य चाणक्य की नीतियां आज भी हमें सही रास्ता दिखाती हैं और परेशानियों से दूर रख सकती हैं। आगे दिए गए फोटो पर क्लिक करें और जानिए चाणक्य की खास नीति, इस नीति में बताया गया है कि कौन-कौन सी बातें किसी भी व्यक्ति को बर्बाद कर सकती हैं। यह नीति स्त्री और पुरुष दोनों के लिए समान रूप से लागू होती है।...
    February 26, 11:38 AM
  • चाणक्य की ये 3 नीतियां ध्यान रखेंगे तो कामयाबी चूमेगी आपके कदम
    उज्जैन। भारतीय इतिहास में आचार्य चाणक्य का महत्वपूर्ण स्थान है। एक समय जब भारत छोटे-छोटे राज्यों में विभाजित था और विदेशी शासक सिकंदर भारत पर आक्रमण करने के लिए भारतीय सीमा तक आ पहुंचा था, तब चाणक्य ने अपनी नीतियों से भारत की रक्षा की थी। चाणक्य के प्रयासों से ही चंद्रगुप्त जैसा सामान्य बालक भारत का सम्राट चंद्रगुप्त मौर्य बना और अखंड भारत का निर्माण किया। चाणक्य के काल में पाटलीपुत्र (वर्तमान में पटना) बहुत शक्तिशाली राज्य मगध की राजधानी था। उस समय नंदवंश का साम्राज्य था और राजा था...
    February 20, 07:23 AM
  • स्त्री करती है ये काम तो होती है बदनाम, पुरुष करे तो होता है नाम
    उज्जैन। पुराने समय से ही स्त्री और पुरुषों के कामों में कई प्रकार की भिन्नताएं चली आ रही हैं। आज भी कई क्षेत्रों में स्त्री और पुरुषों के कार्य अलग-अलग ही हैं। कई काम ऐसे हैं जो स्त्री के लिए शुभ नहीं हैं, जबकि वे ही काम कुछ खास पुरुषों को प्रसिद्धि दिलाते हैं। स्त्रियों के संबंध में आचार्य चाणक्य ने कई सटीक नीतियां बताई हैं। इन्हीं नीतियों में से एक खास नीति यहां बताई जा रही है। इस नीति में स्त्रियों के लिए वर्जित काम का विवरण दिया है। आगे दिए गए फोटो पर क्लिक करें और पढ़िए खास चाणक्य नीति...
    February 5, 09:56 AM
  • चाणक्य की ये 6 बातें ध्यान रखेंगे तो नहीं होगा 1 रुपए का भी नुकसान
    उज्जैन। जीवन में सफलता या असफलता, लाभ या हानि, सुख या दुख आते-जाते रहते हैं, लेकिन किसी व्यक्ति को कब लाभ, सुख और सफलता मिलेगी यह उसके कर्मों पर ही निर्भर है। आचार्य चाणक्य ने कुछ ऐसी बातें बताई हैं जिनसे व्यक्ति को जीवन में कभी भी हानि का सामना नहीं करना पड़ता है। यदि कोई व्यक्ति इन बातों को हमेशा ध्यान रखता है तो वह छोटी-छोटी हानियां से भी बचा रह सकता है। आचार्य चाणक्य ने अपनी नीतियों के बल पर ही एक सामान्य बालक चंद्रगुप्त को अखंड भारत का सम्राट चंद्रगुप्त मौर्य बनाया था और भारत को विदेशी...
    January 28, 10:47 AM
Ad Link
 
विज्ञापन
 
 
 

बड़ी खबरें

 
 
 
 

रोचक खबरें

विज्ञापन
 

बॉलीवुड

 
 

स्पोर्ट्स

 

बिज़नेस

 

जोक्स

 

पसंदीदा खबरें