Home >> Jeevan Mantra >> Fitness Mantra >> Ayurvedic Nuskhe
  • पपीता के फायदे जानकर आपको भी लगेगा, ये बड़े काम की चीज है
    उज्जैन। पपीता एक हेल्दी फ्रूट है। इसे पाचन तंत्र के लिए बहुत अच्छा माना जाता है। कच्चे पपीते में विटामिन ए और सी भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। आयुर्वेद में पपीता को अनेक लाइलाज बीमारियों को दूर करने वाला माना गया है। पपीता पाचन संबंधी दिक्कतों, पीलिया, हर्निया,प्रजनन क्षमता बढ़ाने वाला, दिल के लिए उपयोगी, कोलेस्ट्रॉल के रोगियों के लिए यह अमृत के समान है। नियमित रूप से पपीता का सेवन करने से त्वचा हमेशा जवान बनी रहती है। बालों का गिरना, एसिडिटी, गैस, कमजोरी, विटामिन सी से होने वाले रोग, बवासीर,...
    05:23 PM
  • ये 15 चीजें खाने से बिना पसीना बहाए ही पेट अंदर हो जाता है
    उज्जैन। भारत में जड़ी-बूटी और मसालों का उपयोग सैकड़ों सालों से किया जाता रहा है। इन हर्ब और मसालों में कई औषधीय गुण भरपूर मात्रा में होते हैं। साथ ही, ये हमारे खाने को भी अलग फ्लेवर देते हैं। रिसर्च से पता चला है कि इन मसालों में रोग प्रतिरोधक क्षमता और शरीर का मेटॉबालिज्म बढ़ाने की क्षमता होती है। ये खाने का स्वाद बढ़ाने के साथ ही वजन को भी कंट्रोल करते हैं। अगर आप अपना वजन कम करनेकामन बना रहे हैं तो आज हम बता रहे हैं कुछ ऐसे मसालों औरहर्बके बारे में जिनके नियमित सेवन से वजन कम हो जाता है.... -...
    12:22 PM
  • लो-ब्लड प्रेशर को जल्दी से नार्मल करने के लिए कुछ बेहद आसान घरेलू तरीके
    उज्जैन। हाई ब्लड प्रेशर जैसे शरीर के लिए बहुत हानिकारक होता है। ठीक उसी तरह लो ब्लड प्रेशर भी हानिकारक होता है। लो ब्लड प्रेशर में कमजोरी और थकावट फिल होना एक आम समस्या है। लो ब्लड प्रेशर के चक्कर, सुस्ती, कार्य में मन न लगना, सारे शरीर में दर्द आदि मुख्य लक्षण होते हैं, लेकिन जब वह डाक्टरों के पास चेकअप के लिए आते हैं, वह सामान्य लगते हैं। कई बार यह लक्षण मानसिक तनाव का कारण बनते हैं। यदि आप भी लो ब्लड प्रेशर की समस्या से परेशान हैं तो हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ ऐसे घरेलू नुस्खे जो लो ब्लड प्रेशर...
    April 22, 04:02 PM
  • चॉकलेट की सेहतमंद खूबियां, इन रोगों में करती है जादू सा असर
    उज्जैन।चॉकलेट की मिठास होती ही ऐसी है, जो किसी के भी मुंह में पानी ला दे। जब भी कोई बच्चा चॉकलेट खाता है तो घर के बड़े उसे ये समझाते हैं कि चॉकलेट खाना उसकी हेल्थ के लिए नुकसानदायक हो सकता है। दरअसल, इसका एक कारण चॉकलेट के गुणों से अनजान होना भी है। जी हां चॉकलेट में भी कुछ ऐसी खूबियां होती हैं, जिनके बारे में जानकर आप हैरान रह जाएंगे। चलिए आज जानते हैं चॉकलेट की कुछ ऐसी ही खूबियों के बारे में ..... तनाव दूर करती है- चॉकलेट में मूड ठीक करने और तनाव दूर करने का गुण पाया जाता है। जब भी आपका मूड खराब हो...
    April 22, 01:40 PM
  • सुपारी खाकर करें इलाज, कभी नहीं सुना होगा इन नुस्खों के बारे में
    उज्जैन। भारत में लोग सालों से सुपारी का उपयोग माउथ फ्रेशनर के रूप में करते आ रहे हैं। सामाजिक, सांस्कृतिक और धार्मिक अवसरों पर इसकी एक खास जगह रही है। सुपारी को पूजन सामग्री के रूप में भी उपयोग लाया जाता है। सुपारी आयुर्वेद में कई पेट के रोगों जैसे गैस, सूजन, कब्ज, पेट के कीड़े आदि में बहुत उपयोगी है। सुपारी में कार्बोहाइड्रेट, फैट और प्रोटीन के साथ ही मिनरल्स भी मौजूद होते हैं। साथ ही, टैनिन, गैलिक एसिड और लिगनिन भी पाए जाते हैं। सुपारीकी इसी उपयोगिता को ध्यान में रखते हुए चलिए आज जानते हैं...
    April 22, 11:04 AM
  • कम उम्र में आ गई हो सफेदी तो ये नुस्खे अपनाएं, बाल फिर से काले हो जाएंगे
    उज्जैन। आजकल के फास्ट लाइफ कल्चर में बालों की ठीक से देखभाल न हो पाने और प्रदूषण के कारण बाल सफेद हो जाते हैं। बाल डाई करना या कलर करना इस समस्या का एकमात्र विकल्प नहीं। कुछ घरेलू नुस्खे आजमा कर भी सफेद बालों को काला किया जा सकता है। हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ ऐसे ही सिंपल घरेलू फंडे जिनसे आप कम उम्र में सफेद हुए बालों को फिर से काला बना सकते हैं। - सूखे आंवले को पानी में भिगोकर उसका पेस्ट बना लें। इस पेस्ट में एक चम्मच युकेलिप्टस का तेल मिलाएं। मिश्रण को एक रात तक लोहे के बर्तन में रखें। सुबह...
    April 22, 10:19 AM
  • ये 10 चीजें खाने से आंखें हमेशा स्वस्थ रहेंगी और चश्मा भी नहीं लगेगा
    उज्जैन।आंखें हमारे शरीर का सबसे अनमोल अंग हैं। इसीलिए इसकी देखभाल ठीक से करना बहुत जरूरी है। आंखों को स्वस्थ रखने के लिए विटामिन और पोषक तत्वों से भरपूर चीजों का सेवन करना चाहिए, क्योंकि सही आहार व सही देखभाल से आंखें उम्र भर स्वस्थ रहती हैं। चलिए आज जानते हैं कुछ ऐसी ही चीजों के बारे में जिनके नियमित सेवन से चश्मा नहीं लगता और आंखें स्वस्थ रहती हैं.... हरी सब्जियां होती है फायदेमंद-आंखों को सेहतमंद बनाए रखने के लिए। फलों और हरे पत्तों वाली सब्जियों का सेवन बहुत जरूरी है। इनके सेवन से शरीर को...
    April 21, 05:00 PM
  • माईग्रेन के अचूक देसी इलाज, जानिए क्या कहते हैं आदिवासी हर्बल जानकार?
    उज्जैन। माईग्रेन ज्यादातर सिर के बाएं अथवा दाहिने भाग में होता है, यानि सिर के एक ही हिस्से में दर्द महसूस होता है। इसलिए इसे आधा सिर दर्द भी कहा जाता है। कभी-कभी यह दर्द ललाट और आंखों पर भी स्थिर हो जाता है। कहा जाता है कि माईग्रेन का दर्द सुबह उठते ही प्रारंभ हो जाता है और सूरज के चढ़नेके साथ यह बढ़ता जाता है। दोपहर के बाद दर्द में कमी हो जाती है। इस रोग के इलाज के लिए एलोपैथिक दवाओं के नाम पर दर्द निवारक दवाएं दी जाती हैं, लेकिन दर्द निवारक दवाओं के घातक दुष्प्रभावों से कई अन्य समस्याओं का भी होना...
    April 19, 03:34 PM
  • बहुत काम आएंगे ये COMMON नुस्खे, इन प्रॉब्लम्स में कभी दवा नहीं खाना पड़ेगी
    उज्जैन।छोटी-छोटी हेल्थ प्रॉब्लम्स हम सभी को कभी न कभी परेशान करती है। ऐसे में, कभी जानी-पहचानी गोली खाकर तो कभी दर्द या समस्या को छोटी मानकर हम उसे सहन करते रहते हैं। यदि आपको भी कभी न कभी ऐसी छोटी-छोटी हेल्थ प्रॉब्लम्स परेशान करती हैं तो आज हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ ऐसे छोटे-छोटे घरेलू नुस्खे जो हेल्थ प्रॉब्लम्स में रामबाण की तरह काम करते हैं। - स्किन रूखी और बेजान लगती हो तो जौ का आटा, हल्दी, सरसों का तेल पानी में मिलाकर उबटन बना लें। रोजाना शरीर में मालिश कर गुनगुने पानी से नहाएं। दूध को...
    April 19, 01:01 PM
  • पेटदर्द से अक्सर परेशान रहते हैं तो संभल जाएं, कहीं हो न जाए ये बड़ी बीमारी
    उज्जैन।अमाशय व छोटी आंत में होने वाले अल्सर को पेप्टिक अल्सर के नाम से जाना जाता है। छोटी आंत का अल्सर अधिकतर25 से 45 वर्ष की उम्र केलोगोंमें होता है।गैस्ट्रिक अल्सर ड्यूड्नल अल्सरकी तुलनामें 4गुणाकमलोगों में होता है। आयुर्वेद में यह रोग परिणाम शूल के नाम से जाना जाता है। लक्षण-भोजन करने के कुछ समय बाद रोगी को पेट के आसपास, नाभि या छाती में दर्द होने लगता है। भोजन करने के बाद उल्टी हो जाने पर या खाने के पूरी तरह से पच जाने से दर्द कम या शांत हो जाता है। पेट का फूलना, जलन, बैचेनी और किसी काम में मन...
    April 18, 05:25 PM
  • Fight Loose Motion: बहुत जल्दी असर करते हैं ये साधारण घरेलू नुस्खे
    उज्जैन। गर्मियों में दस्त लगना या डायरिया एक बहुत ही कॉमन प्रॉब्लम होती है। गर्मी में खाने या पानी को लेकर कि गई थोड़ी सी लापरवाही भी इस समस्या का कारण बन सकती है। दस्त लगने पर शरीर के मिनरल्स और पानी शरीर से तेजी से बाहर हो जाते हैं, जिससे मरीज को कमजोरी महसूस होने लगती है। जिसे एक बार ये समस्या हो जाती है उसे एक साल में दो से तीन बार भी इस समस्या का सामना करना पड़ सकता है। दस्त की समस्या बार-बार न हो इसके लिए ऐलोपेथिक दवाओं के बजाय घरेलू नुस्खों को अपनाना चाहिए। आज हम आपको बताने जा रहे हैं। डायरिया...
    April 18, 02:17 PM
  • छोटे-छोटे घरेलू उपाय, ये करेंगे तो साइनस की छुुट्टी हो जाएगी
    उज्जैन।हमारे चेहरे पर नाक के आसपास कुछ छिद्र होते हैं, जिन्हें साइनस कहा जाता है। इनमें संक्रमण को साइनोसाइटिस या साइनस ही कह दिया जाता है। जब साइनस का संक्रमण होता है तो इसके लक्षण आंखों पर और माथे पर महसूस होते हैं। सिरदर्द आगे झुकने व लेटने से बढ़ जाता है। लक्षण - चेहरे पर दर्द का अहसास। - साइनस में दबाव और दर्द महसूस होना। - नाक जाम होने का अहसास, कफ, गले में खरखराहट। - सिरदर्द और कभी-कभी बुखार भी। साइनस के लिए किया जाने वाला सबसे आम उपचार आपरेशन है, लेकिन अधिकांश मामलों में यह सफल नहीं होता।...
    April 17, 03:50 PM
Ad Link
 
विज्ञापन
 
 
 

बड़ी खबरें

 
 
 
 

रोचक खबरें

विज्ञापन
 

बॉलीवुड

 
 

स्पोर्ट्स

 

बिज़नेस

 

जोक्स

 

पसंदीदा खबरें