Home >> Jeevan Mantra >> Dharm >> Utsav >> Rochak Batein
  • आज भूल से देख लें चांद तो जानिए क्या करें, ये हैं रोचक कथाएं
    उज्जैन। आज (29 अगस्त, शुक्रवार) गणेश चतुर्थी है। भाद्रपद शुक्ल पक्ष चतुर्थी का नाम शिवा है, अत: शिवा नाम से चतुर्थी का व्रतोत्सव करने से गणेश कृपा से चतुर्थी का फल सौ गुना अधिक प्राप्त होता है। इस चतुर्थी को पत्थर चतुर्थी भी कहते हैं। धारणा है कि इस दिन घरों पर पत्थर फेंकने से चोरी का भय नष्ट होता है। धर्म ग्रंथों के अनुसार सिंह/कन्या युक्त इस चतुर्थी को चंद्र दर्शन नहीं करते हैं, इस रात्रि को चंद्र दर्शन करने से झूठे आरोप लगते हैं। यदि चंद्र दर्शन हो जाएं तो इस मंत्र का जाप करना चाहिए- सिंह: प्रसेन...
    August 29, 06:00 AM
  • आज देखेंगे चंद्रमा तो नहीं लगेगा आप पर ये दोष
    उज्जैन। हिंदू धर्म में कई मान्यताएं व परंपराएं प्रचलित है। कुछ मान्यताएं त्योहारों से भी जुड़ी हैं। ऐसी ही एक मान्यता गणेश चतुर्थी (इस बार 29 अगस्त, शुक्रवार) के पर्व से भी जुड़ी है। उसके अनुसार यदि कोई व्यक्ति गणेश चतुर्थी की रात को चंद्रमा के दर्शन करता है, तो उस पर चोरी का झूठा आरोप लगता है। उज्जैन के पं. श्यामनारायण व्यास के अनुसार यदि गणेश चतुर्थी के पूर्व पडऩे वाली द्वितीया तिथि (इस बार 27 अगस्त, बुधवार) को चंद्रमा के दर्शन कर लिए जाएं तो चतुर्थी तिथि को चंद्रमा को देखने का दोष नहीं लगता। इस...
    August 27, 11:02 AM
  • हरितालिका तीज 28 को, अखंड सौभाग्य व मनचाहे पति के लिए करें ये व्रत
    उज्जैन। हिंदू धर्म के अनुसार भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को हरितालिका तीज का व्रत किया जाता है। यह व्रत महिला प्रधान है। इस दिन महिलाएं पूरे दिन निराहार (बिना कुछ खाए) रहकर अपने परिवार की सुख-शांति तथा अखंड सौभाग्य के लिए भगवान से प्रार्थना करती हैं। वहीं कुंवारी लड़कियां यह व्रत अच्छे पति की प्राप्ति के लिए करती हैं। इस बार यह व्रत 28 अगस्त, गुरुवार को है। धार्मिक कर्म एवं नियमों द्वारा पुण्य प्राप्त करने का संकल्प व्रत कहलाता है। व्रत करने वाले को शरीर के कष्ट सहना पड़ते हैं,...
    August 26, 06:00 AM
  • गणेश चतुर्थी 29 को, घर-घर विराजेंगे गौरीपुत्र भगवान श्रीगणेश
    उज्जैन। भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को गणेश चतुर्थी का पर्व मनाया जाता है। इस दिन घर-घर में भगवान श्रीगणेश की स्थापना की जाती है और व्रत रखा जाता है। धर्म शास्त्रों में श्रीगणेश को प्रथम पूज्य व ज्ञान तथा बुद्धि का देवता माना गया है। सभी शुभ कार्यों से पहले भगवान श्रीगणेश की पूजा का विधान है। इस बार गणेश चतुर्थी का पर्व 29 अगस्त, शुक्रवार को है। गणेश उत्सव का पर्व 10 दिनों तक मनाया जाता है। इन दिनों में हर गली, मोहल्लों व चौराहों पर भी भगवान श्रीगणेश की प्रतिमा स्थापित कर सांस्कृतिक...
    August 21, 06:00 AM
  • श्रीकृष्ण का समधी था दुर्योधन, जानिए कैसे बना ये संबंध
    उज्जैन। महाभारत के युद्ध में कौरवों की पराजय के मुख्य कारण भगवान श्रीकृष्ण थे। जब-जब पांडवों पर हार का संकट गहराने लगा, तब-तब श्रीकृष्ण ने अपनी युक्तियों से पांडवों को विजय दिलवाई। ये बात हम सभी जानते हैं, लेकिन कम ही लोग ये बात जानते हैं कि जिस दुर्योधन को हराने के लिए श्रीकृष्ण ने पांडवों का साथ दिया, वही दुर्योधन भगवान श्रीकृष्ण का समधी था। ऐेसी अनेक बातें हैं जो श्रीमद्भागवत में बताई गई हैं, लेकिन कम ही लोग ये बातें जानते हैं। आज हम आपको श्रीमद्भागवत में लिखी कुछ ऐसी ही रोचक बातें बता रहे...
    August 19, 11:06 AM
  • भगवान विष्णु के 22 वें अवतार थे श्रीकृष्ण, जानिए 24 अवतारों के बारे में
    उज्जैन।बहुत से लोग भगवान विष्णु के प्रमुख 10 अवतारों के बारे में ही जानते हैं, लेकिन विभिन्न धर्म ग्रंथों में भगवान विष्णु के कुल 24 अवतार माने गए हैं। श्रीकृष्ण भगवान विष्णु के 22वे अवतार थे।धर्म ग्रंथों के अनुसार भाद्रपद मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को भगवान विष्णु ने श्रीकृष्ण रूप में अवतार लिया था। आज हम आपको भगवान विष्णु के सभी 24 अवतारों के बारे में बता रहे हैं- 1- श्री सनकादि मुनि धर्म ग्रंथों के अनुसार सृष्टि के आरंभ में लोक पितामह ब्रह्मा ने अनेक लोकों की रचना करने की इच्छा से घोर...
    August 19, 11:04 AM
  • श्रीकृष्ण ने गर्भ में बचाए थे अभिमन्यु के पुत्र के प्राण, जानिए कैसे
    उज्जैन। श्रीमद्भागवत के अनुसार महाभारत के युद्ध के बाद जब अश्वत्थामा ने सोए हुए द्रौपदी के पुत्रों का वध किया था, तब उसका प्रतिशोध लेने के लिए श्रीकृष्ण व पांडव अश्वत्थामा के पीछे गए। पांडवों का विनाश करने के लिए अश्वत्थामा ने ब्रह्मास्त्र छोड़ा, लेकिन भगवान श्रीकृष्ण की कृपा से पांडव जीवित रहे। तब अश्वत्थामा ने पांडवों के वंश का नाश करने के लिए अपने ब्रह्मास्त्र की दिशा अभिमन्यु की पत्नी उत्तरा के गर्भ की ओर कर दी, जिससे उत्तरा के गर्भ में पल रहे शिशु को प्राणों का भय हो गया। तब श्रीकृष्ण...
    August 18, 06:00 AM
  • जानिए क्यों लिया भगवान विष्णु ने श्रीकृष्ण अवतार?
    उज्जैन।18 अगस्त, सोमवार को जन्माष्टमी है। इस दिन भगवान विष्णु के अवतार श्रीकृष्ण का जन्म उत्सव बड़ी ही धूम-धाम से पूरे देश में मनाया जाता है। भगवान विष्णु ने श्रीकृष्ण अवतार क्यों लिया, धर्म ग्रंथों के अनुसार इसका कारण इस प्रकार है- द्वापर युग में जब पृथ्वी पर मानव रूपी राक्षसों के अत्याचार बढऩे लगे। तब पृथ्वी दु:खी होकर भगवान विष्णु के पास गईं। तब भगवान विष्णु ने कहा मैं शीघ्र ही पृथ्वी पर जन्म लेकर दुष्टों का सर्वनाश करूंगा। द्वापर युग के अंत में मथुरा में उग्रसेन राजा राज्य करते थे।...
    August 14, 06:00 AM
  • मिट्टी की मूर्ति पूजने से मिलता है श्रेष्ठ फल
    भास्कर पहल- मिट्टी के गणेशजी, घर में ही विसर्जन उज्जैन। पुराणों में उल्लेख है, भगवान विष्णु ने गणेशजी की कृपा पाने के लिए सिद्ध क्षेत्र में घोर तप किया था। गणेश जी ने उन्हें दर्शन और आशीर्वाद दिए तब भगवान विष्णु ने उनकी मिट्टी से बनी प्रतिमा स्थापित की थी। शास्त्रों में पार्थिव पूजा का विधान है। तात्पर्य यह कि आदिकाल से शास्त्रों, पुराणों, कथाओं में मिट्टी से निर्मित मूर्तियां ही पूजी जाती रही हैं। द्वापर युग में पारा की मूर्ति की पूजा श्रेष्ठ मानी जाती थी, वहीं कलयुग में माटी की मूर्ति की...
    August 13, 11:23 AM
  • आज शुभ योग में करें ये 11 अचूक उपाय, प्रसन्न होंगे भगवान श्रीगणेश
    उज्जैन। भाद्रपद मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को बहुला चतुर्थी कहते हैं। इस दिन श्रीगणेश को प्रसन्न करने के लिए व्रत व विशेष पूजन किया जाता है। इस बार ये व्रत 13 अगस्त, बुधवार को है। बुधवार व चतुर्थी दोनों ही भगवान श्रीगणेश के प्रिय वार व तिथि हैं। इस प्रकार श्रीगणेश के प्रिय वार व तिथि का संयोग बहुत ही शुभ फलदाई है। शास्त्र के अनुसार इस विशेष संयोग पर यदि कुछ विशेष उपाय किए जाएं तो भगवान श्रीगणेश अपने भक्तों पर प्रसन्न होकर उनकी हर मनोकामना पूरी करते हैं। अगर आप भी इस विशेष अवसर का लाभ उठाना...
    August 13, 06:30 AM
  • संकल्प लें कि मिट्टी की ही गणेश प्रतिमाएं स्थापित करेंगे
    उज्जैन। मिट्टी के कई नाम हैं, जैसी इस तत्व की महिमा है, ऐसे ही अनेक नामों से शब्द कोषों और शास्त्रों में इसकी व्याख्या और वंदना मिलती है। यह पंचतत्वों में केवल एक है, बल्कि प्रमुख भी है। इसे जमीन, पृथ्वी, धरा, धरती, मिट्टी और बोलचाल की भाषा में माटी भी कहा गया है। इसी धरती पर हम रहते हैं, माटी से बने माने जाते हैं और जीवन के संपन्न होने पर एक दिन माटी में ही मिल जाते हैं। यह माटी जितनी सहज, सुलभ और सस्ती है, उतनी ही अनमोल। जीवन के रहते हुए इसका मोल मापा नहीं जा सकता, वहीं जीवन के समापन पर यह चूंकि हमें...
    August 11, 11:26 AM
  • रक्षाबंधन - रविवार को दोपहर बाद बंधेगी राखी, जानिए रक्षाबंधन के शुभ मुहूर्त
    उज्जैन। श्रावण मास की पूर्णिमा को रक्षाबंधन का पर्व मनाया जाता है। इस बार ये पर्व 10 अगस्त, रविवार को है। ज्योतिषियों के अनुसार इस बार रक्षाबंधन पर भद्रा का योग बन रहा है, जिसके कारण दोपहर बाद रक्षाबंधन पर्व शुरू होगा और बहनें अपने भाइयों को राखी बांध सकेंगी। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. श्यामनारायण व्यास के अनुसार 10 अगस्त की सुबह 6.05 बजे सूर्योदय से रात 11.38 बजे तक पूर्णिमा तथा सूर्योदय से रात 10.39 बजे तक श्रवण नक्षत्र का संयोग बन रहा है, जिसमें राखी बांध सकते हैं, लेकिन 9 अगस्त की अलसुबह 3.35 बजे से 10...
    August 9, 05:58 PM
विज्ञापन
 

बड़ी खबरें

 
 

रोचक खबरें

विज्ञापन
 

बॉलीवुड

 
 

स्पोर्ट्स

 

बिज़नेस

 

जोक्स

 

पसंदीदा खबरें