Home >> Jeevan Mantra >> Dharm >> Utsav
  • वैशाख महीने में करें सिर्फ ये एक काम, प्रसन्न हो जाएंगे त्रिदेव
    उज्जैन। धार्मिक दृष्टि से प्रत्येक मास का अपना एक विशेष महत्व है। हिंदू वर्ष के दूसरे माह वैशाख के विषय में धर्म ग्रंथों में लिखा है कि- न माधवसमो मासो न कृतेन युगं समम्। न च वेदसमं शास्त्रं न तीर्थं गंगया समम्।। (स्कंदपुराण, वै. वै. मा. 2/1) अर्थात वैशाख के समान कोई मास नहीं है, सत्ययुग के समान कोई युग नहीं है, वेद के समान कोई शास्त्र नहीं है और गंगाजी के समान कोई तीर्थ नहीं है। धर्म ग्रंथों के अनुसार स्वयं ब्रह्माजी ने वैशाख को सब मासों से उत्तम मास बताया है। भगवान विष्णु को प्रसन्न करने वाला...
    April 18, 06:00 AM
  • गुड फ्राइडे आज: जानिए, कौन सी हैं प्रभु यीशु की सात वाणियां
    उज्जैन। ईसाई धर्म के लोग गुड फ्राइडे को प्रभु यीशु को क्रूस पर चढ़ाए जाने और मानवता की रक्षा के लिए प्राण देने की याद में मनाते हैं। इस दिन से पहले 40 दिनों तक ईसाई धर्म के लोग व्रत भी रखते हैं। इस बार गुड फ्राइडे 18 अप्रैल, शुक्रवार को है। इसे गुड फ्राइडे इसलिए कहा जाता है, क्योंकि इस दिन प्रभु यीशु ने पापियों के लिए क्रूस पर प्राण देकर समस्त मानवजाति के लिए उद्धार का मार्ग खोल दिया। गुड फ्राइडे के दिन दोपहर 12 से 3 बजे तक गिरिजाघरों में विशेष प्रार्थना होती है, जिसमें यीशु के दु:ख उठाने एवं क्रूस पर...
    April 18, 06:00 AM
  • गणेश चतुर्थी आज, इस व्रत से पूरी होती है भक्त की हर मनोकामना
    उज्जैन। भगवान गणेश सभी दु:खों को हरने वाले हैं। इनकी कृपा से असंभव कार्य भी संभव हो जाते हैं। भगवान गणेश को प्रसन्न करने के लिए प्रत्येक महीने के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को व्रत किया जाता है, इसे गणेश चतुर्थी व्रत कहते हैं। इस बार यह व्रत 18 अप्रैल, शुक्रवार को है। गणेश चतुर्थी का व्रत इस प्रकार करें- व्रत विधि - सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि काम जल्दी ही निपटा लें। - दोपहर के समय अपने सामथ्र्य के अनुसार सोने, चांदी, तांबे, पीतल या मिट्टी से बनी भगवान गणेश की प्रतिमा स्थापित करें। - संकल्प मंत्र के बाद...
    April 18, 06:00 AM
  • वैशाख मास: 14 मई तक ध्यान रखें ये बातें, जानिए क्या करें-क्या नहीं
    उज्जैन। हिंदू पंचांग के अनुसार वर्ष का दूसरा महीना वैशाख होता है। इस बार वैशाख मास का प्रारंभ 16 अप्रैल, बुधवार से हो चुका है, जो 14 मई, बुधवार को समाप्त होगा। हिंदू धर्म ग्रंथों में वैशाख मास से संबंधित कई बातें कहीं गई हैं। उसके अनुसार वैशाख मास में कुछ विशेष कार्य करने चाहिए और कुछ नहीं करने चाहिए। धर्म ग्रंथों के अनुसार जानिए इस महीने में कौन से काम करने चाहिए और कौन से नहीं- धर्मग्रंथों के अनुसार वैशाख में ये काम नहीं करने चाहिए- तैलाभ्यंग दिवास्वापं तथा वै कांस्यभोजनम्। खट्वानिंद्रां...
    April 17, 06:00 AM
  • गुड फ्राइडे कल, प्रायश्चित व प्रार्थना करने का दिन है ये
    उज्जैन। प्रभु ईसा मसीह मानवता के रक्षक थे। उन्होंने ईश्वर के मार्ग पर चलते-चलते अपने प्राणों का त्याग कर दिया। ईसा मसीह के बलिदान की याद में ईसाई समुदाय के लोग पवित्र सप्ताह मनाते हैं। ईसाई धर्म ग्रंथों के अनुसार जिस दिन ईशु ने प्राण त्यागे थे, उस दिन शुक्रवार था। इसी की याद में गुड फ्राइडे मनाया जाता है। इस घटना के तीन दिन बाद ईशु पुन: जीवित हो गए थे, इस दिन को ईस्टर सण्डे कहते हैं। इस बार गुड फ्राइडे 18 अप्रैल, शुक्रवार को तथा ईस्टर सण्डे 20 अप्रैल, रविवार को है। गुड फ्राइडे को होली फ्राइडे, ब्लैक...
    April 17, 06:00 AM
  • क्या आप जानते हैं, क्यों मनाया जाता है गुड फ्राइडे ?
    उज्जैन। गुड फ्राइडे प्रभु यीशु के निर्वाण दिवस के रूप में मनाया जाता है। सही मायनों में यह प्रभु यीशु द्वारा मानवता के लिए प्राण का न्यौछावर करने का दिन है। इस बार गुड फ्राइडे 18 अप्रैल, शुक्रवार को है। धर्म ग्रंथों के अनुसार यीशु मसीह का जन्म इजराइल के एक गांव बैथलहम में हुआ था। बालक यीशु को बैथलहम के राजा हेरोदेस ने मरवाने की हर संभव कोशिश की, लेकिन वह सफल नहीं हो पाया। जब यीशु बड़े हुए तो जगह-जगह जाकर लोगों को मानवता और शांति का संदेश देने लगे। उन्होंने धर्म के नाम पर अंधविश्वास फैलाने वाले...
    April 17, 06:00 AM
  • हनुमान जयंती आज: जानिए पूजन के शुभ मुहूर्त तथा संपूर्ण विधि
    उज्जैन। धर्म ग्रंथों के अनुसार चैत्र मास की पूर्णिमा को हनुमान जयंती का पर्व मनाया जाता है। इस बार यह पर्व 15 अप्रैल, मंगलवार को है। धर्म ग्रंथों के अनुसार मंगलवार के स्वामी स्वयं हनुमानजी ही हैं, इसलिए इस बार हनुमान जयंती का महत्व और भी बढ़ गया है। यदि इस दिन पवनपुत्र की विधि-विधान से पूजा की जाए, तो वे अति प्रसन्न होते हैं और अपने भक्तों की हर मुराद पूरी कर देते हैं। आज इस विधि से करें हनुमानजी का पूजन- पूजन विधि हनुमानजी का पूजन करते समय सबसे पहले कंबल या ऊन के आसन पर पूर्व दिशा की ओर मुख करके...
    April 15, 01:00 AM
  • वैशाखी आज, इसी दिन हुई थी खालसा पंथ की स्थापना
    उज्जैन। आज (14 अप्रैल, सोमवार) वैशाखी का पर्व है। यूं तो वैशाखी का पर्व फसल पकने की खुशी में मनाया जाता है, लेकिन इसके पीछे सिक्खों की कुर्बानी की एक कहानी भी है, जो इस प्रकार है- जब औरंगजेब ने गुरु तेगबहादुर का कत्ल करवा दिया, तो उनकी शहादत के बाद उनकी गद्दी पर गुरु गोविंद सिंह को बैठाया गया। उस समय उनकी उम्र मात्र 9 वर्ष थी। गुरु की गरिमा बनाये रखने के लिए उन्होंने अपना ज्ञान बढ़ाया और संस्कृत, फारसी, पंजाबी और अरबी भाषाएं सीखीं। गुरु गोविंद सिंह ने धनुष- बाण, तलवार, भाला आदि चलाने की कला भी सीखी।0...
    April 14, 06:00 AM
  • महावीर जयंती आज: इन्होंने दिया दुनिया को जियो और जीने दो का संदेश
    उज्जैन। जैन धर्म के अनुसार वर्धमान महावीर जैन धर्म के प्रवर्तक भगवान श्री आदिनाथ की परंपरा में चौबीस वें तीर्थंकर हुए थे। वर्धमान महावीर का जन्मदिवस जैन अनुयायियों द्वारा प्रतिवर्ष मनाया जाता है। इस बार महावीर जयंती का पर्व 13 अप्रैल अप्रैल, रविवार को है। जैन धर्म के अनुसार भगवान महावीर का जन्म वैशाली के एक क्षत्रिय परिवार में राजकुमार के रूप में चैत्र शुक्ल पक्ष त्रयोदशी को हुआ था। इनके बचपन का नाम वर्धमान था, यह लिच्छवी कुल के राजा सिद्दार्थ और रानी त्रिशला के पुत्र थे। जैन...
    April 13, 06:00 AM
  • वैशाखी कल, फसल पकने की खुशी में मनाते हैं ये उत्सव
    उज्जैन। वैशाखी का त्योहार पंजाब, हरियाण आदि प्रदेशों में बड़ी ही धूमधाम व हर्षोल्लास से मनाया जाता है। प्रतिवर्ष यह त्योहार अप्रैल माह में मनाया जाता है। इस बार यह त्योहार 14 अप्रैल, सोमवार को है। वैसे तो वैशाखी का पर्व मूलत: फसल पकने की खुशी में मनाया जाता है। इस समय गेंहू की फसल पककर तैयार हो जाती है। किसान जब अपनी फसल लहलहाती देखता है, तो उसके मन में अपने आप ही उमंग और उल्लास हिलोरे मारने लगता है। इस खुशी को सभी लोग मिलकर नाच-गाकर मनाते हैं। इसी पर्व का नाम वैशाखी है। पंजाब में तरन-तारन की...
    April 13, 06:00 AM
  • अनंग त्रयोदशी आज, इस विधि से करें कामदेव का पूजन
    उज्जैन। चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की त्रयोदशी तिथि अनंग त्रयोदशी के नाम से जानी जाती है। इस दिन व्रत करने से दाम्पत्य में प्रेम की वृद्धि होती है तथा पति व पुत्र का सुख प्राप्त होता है। इस बार यह व्रत 12 अप्रैल, शनिवार को है। भविष्यपुराण के अनुसार इस दिन कामदेव, रति और वसंत की पूजा करके दम्पत्ति सुख-सौभाग्य तथा पुत्र की प्राप्ति करते हैं- चैत्रोत्सवे सकललोकमनोनिवासे कामं त्रयोदशतिथौ च वसन्तयुक्तम्। पत्न्या सहाच्र्य पुरुषप्रवरोथ योषि- त्सौभाग्यरूपसुतसौख्ययुत: सदा स्यात्।। यह व्रत इस तिथि...
    April 12, 11:03 AM
  • शनि प्रदोष आज: पुत्र सुख चाहिए तो करें ये व्रत, जानिए संपूर्ण विधि
    उज्जैन। धर्म ग्रंथों के अनुसार प्रदोष व्रत करने से हर सुख की प्राप्ति संभव है। यह व्रत प्रत्येक माह की दोनों पक्षों की त्रयोदशी तिथि को किया जाता है। विभिन्न वारों के साथ यह व्रत विभिन्न योग भी बनाता है। जब त्रयोदशी तिथि शनिवार को आती है, तो शनि प्रदोष व्रत किया जाता है। इस बार यह व्रत 12 अप्रैल, शनिवार को है। पुराणों के अनुसार शनि प्रदोष व्रत करने से पुत्र की प्राप्ति होती है। शनि प्रदोष व्रत के पालन के लिए शास्त्रोक्त विधान इस प्रकार है। किसी विद्वान ब्राह्मण से यह कार्य कराना श्रेष्ठ होता है-...
    April 12, 06:00 AM
Ad Link
 
विज्ञापन
 
 
 

बड़ी खबरें

 
 
 
 

रोचक खबरें

विज्ञापन
 

बॉलीवुड

 
 

स्पोर्ट्स

 

बिज़नेस

 

जोक्स

 

पसंदीदा खबरें