जीवन मंत्र
Home >> Jeevan Mantra >> Dharm >> Utsav
  • गोपाष्टमी आज, सौभाग्य बढ़ाने के लिए ऐसे करें गायों का पूजन
    उज्जैन। कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि को गोपाष्टमी महोत्सव मनाया जाता है। इस बार यह पर्व 31 अक्टूबर, शुक्रवार को है। मान्यता के अनुसार कार्तिक शुक्ल प्रतिपदा से लेकर सप्तमी तक भगवान श्रीकृष्ण ने गोवर्धन पर्वत धारण किया था। आठवें दिन इंद्र अहंकाररहित श्रीकृष्ण की शरण में आए तथा क्षमायाचना की। तभी से कार्तिक शुक्ल अष्टमी को गोपाष्टमी का उत्सव मनाया जा रहा है। ऐसे मनाएं महोत्सव प्रात:काल उठकर गायों को स्नान कराएं। गंध-पुष्पादि से गायों का पूजन करें तथा ग्वालों को उपहार आदि देकर...
    October 31, 11:43 AM
  • देवप्रबोधिनी एकादशी 3 को, इस दिन नींद से जागते हैं देवता
    उज्जैन। कार्तिक शुक्ल एकादशी को देवप्रबोधिनी एकादशी कहते हैं। इस बार यह एकादशी 3 नवंबर, सोमवार को है। प्रबोधन का अर्थ है - जागना। इस प्रकार देव प्रबोधन का अर्थ होता है - देवताओं का जागना। जिस तरह मानव रात होते ही सोने चला जाता है, ठीक उसी तरह पुराणों की मान्यता है कि देवता भी एक नियत समय पर सोते और जागते हैं। पौराणिक मान्यता के अनुसार भगवान विष्णु साल के चार माह शेषनाग की शैय्या पर सोने के लिये क्षीरसागर में शयन करते हैं तथा कार्तिक शुक्ल एकादशी को वे उठ जाते हैं। इसलिए इसे देवोत्थान, देवउठनी या...
    October 31, 06:00 AM
  • अक्षय नवमी कल, इस आसान विधि से करें आंवला वृक्ष का पूजन
    उज्जैन। कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की नवमी को अक्षय नवमी व आंवला नवमी कहते हैं। इस दिन स्नान, पूजन, तर्पण तथा अन्न दान करने से हर मनोकामना पूरी होती है। अक्षय नवमी के दिन आंवले के वृक्ष की पूजा करने का विधान है। इस बार यह व्रत 1 नवंबर, शनिवार को है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार आंवले का वृक्ष भगवान विष्णु को अतिप्रिय है, क्योंकि इसमें लक्ष्मी का वास माना गया है। इस विधि से करें आंवला वृक्ष का पूजन आंवला नवमी के दिन सुबह स्नान कर दाहिने हाथ में जल, चावल, फूल आदि लेकर निम्न प्रकार से व्रत का संकल्प...
    October 31, 01:00 AM
  • सूर्यदेव के पास आते ही इनकी पत्नी का शरीर पड़ जाता था काला
    उज्जैन।शास्त्रों के अनुसार सूर्यदेव की पत्नी का नाम संध्या है और इनका एक नाम संजना भी है। संजना दक्ष प्रजापति की पुत्री हैं। यहां जानिए सूर्यदेव और उनकी पत्नी से जुड़ी खास बातें और उनके परिवार का परिचय... सूर्य के पास आते ही इनकी पत्नी का शरीर पड़ जाता था काला सूर्य के शरीर से निकलने वाली तेज किरणों की आभा को सहन न कर पाने के कारण संजना का शरीर सांवला पड़ गया था। इसी सांवले शरीर के कारण संजना का नया नाम संज्ञा (संध्या) हुआ। संध्या ने तीन बच्चों सावर्णि मनु, यम और पुत्री यमुना को जन्म दिया।...
    October 30, 11:34 AM
  • जानिए सूर्यदेव के शिष्य, पुत्र व प्रमुख उपासकों के बारे में
    उज्जैन। धर्म ग्रंथों में भगवान सूर्य को प्रत्यक्ष देवता कहा गया है यानी वो देवता जो हमें दिखाई देते हैं।शास्त्रों के अनुसार सूर्यदेव की उपासना से ज्ञान, प्रसिद्धि, वैभव, ऐश्वर्य व जीवन का हर सुख मिल सकता है। सूर्य षष्ठी व्रत के अवसर पर हम आपको उन देवता, वीरों व महापुरुषों के बारे में बता रहे हैं, जो सूर्यदेव के उपासक रहे हैं। इनकी जानकारी इस प्रकार है- 1- हनुमान धर्म ग्रंथों के अनुसार हनुमानजी भगवान शिव के अवतार थे। इनके पिता का नाम केसरी व माता का नाम अंजनी था। हनुमानजी ने सूर्यदेव से ही...
    October 30, 11:33 AM
  • छठ पूजा आज: इस विधि से करें सूर्यदेव का पूजन, पूरी होगी मनोकामना
    उज्जैन। आज (29 अक्टूबर, बुधवार) छठ पूजन है। इस दिन मुख्य रूप से भगवान सूर्य का पूजन किया जाता है। हिंदू धर्म में सूर्य को साक्षात भगवान माना गया है क्योंकि वे नित्य प्रति हमें दर्शन देते हैं और उन्हीं के प्रकाश से हमें जीवनदायिनी शक्ति प्राप्त होती है। धर्म शास्त्रों के अनुसार नित्य प्रति सूर्य की उपासना करने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती है। भगवान सूर्यदेव की पूजन विधि इस प्रकार है- - सुबह ब्रह्ममुहूर्त में उठकर शौच आदि कार्यों से निवृत्त होकर नदी के तट पर जाकर आचमन करें तथा सूर्योदय के समय...
    October 29, 11:34 AM
  • रोजे भी रखे जाते हैं मोहर्रम के पवित्र महीने में
    उज्जैन। इस्लाम में मोहर्रम का महीना खुदा की इबादत व इमाम हुसैन की शहादत की याद करने का है। मुस्लिम धर्मावलंबी इस महीने की नौ व दस तारीख को रोजे भी रखते हैं। धार्मिक मान्यता के अनुसार इन दिनों में रोजा रखने से बीते समय के सभी गुनाहों से छुटकारा मिलता है। इस्लाम को मानने वाले मोहर्रम माह की दस तारीख को शहीदों की याद के रूप में तथा इस्लाम के प्रति अपने समर्पण को दर्शाते हैं और साथ ही यह दुआ भी करते हैं कि रब उन्हें भी नेकी, समर्पण व कुर्बानी के जज्बे से सराबोर रखे। जंग को हराम समझे जाने वाले इस माह...
    October 28, 06:00 AM
  • यहां मिला है समुद्र मंथन का प्रमाण, जानिए 14 रत्नों में छिपा लाइफ मैनेजमेंट
    फोटो-सूरत जिले के पिंजरात गांव के पास समुद्र में स्थित पर्वत उज्जैन। देवताओं और असुरों द्वारा किए गए समुद्र मंथन की कथा हम सभी जानते हैं। इस कथा के अनुसार देवता व असुरों ने नागराज वासुकि की नेती बनाकर मंदराचल पर्वत की सहायता से समुद्र को मथा था। समुद्र मंथन से ही लक्ष्मी, चंद्रमा, अप्सराएं व भगवान धन्वन्तरि अमृत लेकर निकले थे। आर्कियोलॉजी और ओशनोलॉजी डिपार्टमेंट ने सूरत जिले के पिंजरात गांव के पास समुद्र में मंदराचल पर्वत होने का दावा किया है। आर्कियोलॉजिस्ट मितुल त्रिवेदी के अनुसार...
    October 27, 02:04 PM
  • लोक आस्था और धार्मिक सौहार्द का महापर्व छठ
    (प्रतीकात्मक फोटो) बिहार: लोक आस्था का पर्व छठ बिहार और उत्तर प्रदेश और नेपाल के तराई क्षेत्र में बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता है। इस पर्व में साफ-सफाई का विशेष तौर पर ख्याल रखा जाता है। देश-विदेश में जहां कहीं भी बिहार और यूपी के लोग रहते हैं, वे छठ पर्व जरूर मनाते हैं। बदलते समय के साथ-साथ यह पर्व धार्मिक सौहार्द का प्रतीक बन गया है। मुस्लिम धर्म के लोग भी बड़ी संख्या में इस पर्व को श्रद्धा पूर्वक व विधि-विधान से मनाते हैं। इस बार सांध्य कालीन अर्घ्य 29 अक्टूबर और प्रात: कालीन अर्घ्य 30 अक्टूबर...
    October 27, 10:28 AM
  • छठ पूजा 29 को: जानिए इस व्रत का महत्व व रोचक कथाएं
    उज्जैन। कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की षष्ठी तिथि को भगवान सूर्य की पूजा की जाती है। इसे छठ पूजा, डाला छठ व सूर्य षष्टी व्रत भी कहते हैं। इस बार यह व्रत 29 अक्टूबर, बुधवार को है। वैसे तो यह त्योहार संपूर्ण भारत वर्ष में मनाया जाता है, लेकिन बिहार और उत्तरप्रदेश के पूर्वी क्षेत्रों में यह पर्व बड़ी श्रद्धा और उल्लास के साथ मनाया जाता है। लोगों को इस पर्व का बड़ी बेसब्री से इंतजार रहता है। मूलत: यह भगवान सूर्य देव की पूजा-आराधना का पर्व है। सूर्य अर्थात् रोशनी, जीवन एवं ऊष्मा के प्रतीक छठ के रूप में...
    October 27, 10:22 AM
  • आज इस विधि से करें विनायकी चतुर्थी व्रत, प्रसन्न होंगे श्रीगणेश
    उज्जैन। भगवान श्रीगणेश सभी दु:खों को हरने वाले हैं। इनकी कृपा से असंभव कार्य भी संभव हो जाते हैं। भगवान गणेश को प्रसन्न करने के लिए प्रत्येक मास की शुक्ल पक्ष की चतुर्थी को व्रत किया जाता है, इसे विनायकी चतुर्थी व्रत कहते हैं। इस बार यह व्रत 27 अक्टूबर, सोमवार को है। विनायकी चतुर्थी का व्रत इस प्रकार करें- - सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि काम जल्दी ही निपटा लें। - दोपहर के समय अपने सामथ्र्य के अनुसार सोने, चांदी, तांबे, पीतल या मिट्टी से बनी भगवान श्रीगणेश की प्रतिमा स्थापित करें। - संकल्प मंत्र के...
    October 27, 06:00 AM
  • शिव को नहीं चढ़ाएं केतकी का फूल, जानिए पूजन से जुड़ी 11 जरूरी बातें
    उज्जैन। देवी-देवताओं का पूजन हिंदू धर्म का अभिन्न अंग है। पूजन के अभाव में हिंदू धर्म की कल्पना भी नहीं की जा सकती। हिंदू धर्म को मानने वाला प्रत्येक व्यक्ति प्रतिदिन किसी न किसी रूप में भगवान का स्मरण अवश्य करता है। हिंदू धर्म ग्रंथों में पूजन के संबंधित बहुत ही बातें बताई गई हैं, लेकिन जानकारी के अभाव में बहुत से लोग ये बातें नहीं जानते। हमारे धर्म ग्रंथों में कुछ विशेष फूल या वस्तु किसी विशेष देवता को अर्पित करना वर्जित माना गया है। पूजन से जुड़ी ऐसी अनेक छोटी-छोटी मगर बहुत महत्वपूर्ण...
    October 26, 06:30 PM
विज्ञापन
 

बड़ी खबरें

 
 

रोचक खबरें

विज्ञापन
 

बॉलीवुड

 
 

स्पोर्ट्स

 

बिज़नेस

 

जोक्स

 

पसंदीदा खबरें