Home >> Jeevan Mantra >> Dharm >> Utsav
  • वरुथिनी एकादशी कल, जीवन का हर सुख और मोक्ष प्रदान करता है ये व्रत
    उज्जैन। हिंदू धर्म में एकादशी व्रत का बहुत अधिक महत्व है। हर एकादशी का अपना विशिष्ठ नाम व महत्व धर्म ग्रंथों में लिखा है। इसी क्रम में वैशाख मास के कृष्ण पक्ष की एकादशी को वरुथिनी एकादशी कहते हैं। इस बार यह एकादशी 25 अप्रैल, शुक्रवार को है। ऐसी मान्यता है कि इस वरुथिनी एकादशी का फल सभी एकादशियों से बढ़कर है। इस दिन जो उपवास रखते हैं, उन्हें 10 हजार वर्षों की तपस्या के बराबर फल प्राप्त होता है। उनके सारे पाप धुल जाते हैं। जीवन सुख-सौभाग्य से भर जाता है। मनुष्य को भौतिक सुख तो प्राप्त होते ही हैं,...
    59 mins ago
  • वैशाख महीेने में इस प्रकार करें स्नान व व्रत, प्रसन्न होंगे भगवान विष्णु
    उज्जैन। चैत्र शुक्ल पूर्णिमा से वैशाख मास स्नान आरंभ हो जाता है। यह स्नान पूरे वैशाख मास तक चलता है। स्कंदपुराण में वैशाख मास को सभी मासों में उत्तम बताया गया है। पुराणों में कहा गया है कि वैशाख मास में सूर्योदय से पहले जो व्यक्ति स्नान करता है तथा व्रत रखता है, वह भगवान विष्णु का कृपापात्र होता है। स्कंदपुराण में उल्लेख है कि महीरथ नामक राजा ने केवल वैशाख स्नान से ही वैकुण्ठधाम प्राप्त किया था। इसमें व्रती को प्रतिदिन प्रात:काल सूर्योदय से पूर्व किसी तीर्थस्थान, सरोवर, नदी या कुएं पर जाकर...
    April 21, 06:00 AM
  • सिक्खों के पांचवे गुरु अर्जुनदेवजी की जयंती आज
    उज्जैन। गुरु अर्जुनदेव सिक्खों के पांचवे गुरु थे। मुगलों ने इन पर कई अत्याचार किए, लेकिन फिर भी गुरु अर्जुनदेव धर्म के मार्ग पर अडिग रहे। अंतत: मुगलों ने इनकी हत्या करवा दी। आज (21 अप्रैल, सोमवार) गुरु अर्जुनदेव की जयंती है। श्रीगुरुग्रंथ साहिब में तीस रागों में गुरुजी की वाणी संकलित है। गणना की दृष्टि से श्रीगुरुग्रंथ साहिब में सर्वाधिक वाणी पंचम गुरु की ही है। मानव-कल्याण के लिए उन्होंने आजीवन कार्य किए। गुरुग्रंथ साहिब का संपादन गुरु अर्जुनदेव ने भाई गुरदास की सहायता से 1604 में किया।...
    April 21, 06:00 AM
  • ईस्टर संडे आज: इस दिन पुनर्जीवित हुए थे यीशु
    उज्जैन। ईस्टर संडे, ईसाइयों का महत्वपूर्ण धार्मिक पर्व है। ईसाई धार्मिक ग्रन्थों के अनुसार सूली पर लटकाए जाने के तीसरे दिन यीशु पुनर्जीवित हो गए थे। इस पर्व को ईसाई धर्म के लोग ईस्टर दिवस, ईस्टर रविवार या संडे के रूप में मनाते हैं। इस बार ईस्टर संडे 20 अप्रैल, रविवार को है। ईस्टर संडे, गुड फ्राईडे के बाद आने वाले रविवार को मनाया जाता है। ईस्टर खुशी का दिन होता है। इस पवित्र रविवार को खजूर इतवार भी कहा जाता है। ईस्टर का पर्व नए जीवन और जीवन के बदलाव के प्रतीक के रूप में मनाया जाता है। ईस्टर रविवार...
    April 20, 06:00 AM
  • वैशाख महीने में इस मंत्र से करें भगवान विष्णु का पूजन
    उज्जैन। हिंदू धर्म के अनुसार एक वर्ष में 12 महीने होते हैं। प्रत्येक महीने के स्वामी एक विशेष देवता माने गए हैं। उनके पूजन की विधि भी अलग-अलग बताई गई है। उसके अनुसार वैशाख मास के स्वामी भगवान मधुसूदन हैं। धर्म ग्रंथों के अनुसार सूर्यदेव के मेष राशि में आने पर भगवान मधुसूदन के निमित्त वैशाख मास स्नान का व्रत लेना चाहिए। स्नान के बाद भगवान मधुसूदन की पूजा करना चाहिए। इसके बाद भगवान मधुसूदन से इस प्रकार प्रार्थना करनी चाहिए- मधुसूदन देवेश वैशाखे मेषगे रवौ। प्रात:स्नानं करिष्यामि निर्विघ्नं...
    April 20, 06:00 AM
  • गुरु तेगबहादुर जयंती आज, धर्म की रक्षा के लिए कटाया था अपना सिर
    उज्जैन। सिक्खों के नवें गुरुका नाम गुरु तेगबहादुर है। गुरु तेगबहादुर ने धर्म व मानवता की रक्षा करते हुए हंसते-हंसते अपने प्राणों की कुर्बानी दी थी। आज (20 अप्रैल, रविवार) गुरु तेगबहादुर की जयंती है। जानिए कैसे गुरु तेगबहादुर ने निर्भय होकर अपना शिश कटा दिया- मुगल बादशाह औरंगजेब के दरबार में एक विद्वान पंडित आकर रोज गीता के श्लोक पढ़ता और उसका अर्थ सुनाता था, पर वह पंडित गीता में से कुछ श्लोक छोड़ दिया करता था। एक दिन वह पंडित बीमार हो गया और उसने औरंगजेब को गीता सुनाने के लिए अपने बेटे को भेज...
    April 20, 06:00 AM
  • वैशाख महीने में करें सिर्फ ये एक काम, प्रसन्न हो जाएंगे त्रिदेव
    उज्जैन। धार्मिक दृष्टि से प्रत्येक मास का अपना एक विशेष महत्व है। हिंदू वर्ष के दूसरे माह वैशाख के विषय में धर्म ग्रंथों में लिखा है कि- न माधवसमो मासो न कृतेन युगं समम्। न च वेदसमं शास्त्रं न तीर्थं गंगया समम्।। (स्कंदपुराण, वै. वै. मा. 2/1) अर्थात वैशाख के समान कोई मास नहीं है, सत्ययुग के समान कोई युग नहीं है, वेद के समान कोई शास्त्र नहीं है और गंगाजी के समान कोई तीर्थ नहीं है। धर्म ग्रंथों के अनुसार स्वयं ब्रह्माजी ने वैशाख को सब मासों से उत्तम मास बताया है। भगवान विष्णु को प्रसन्न करने वाला...
    April 18, 06:00 AM
  • गुड फ्राइडे आज: जानिए, कौन सी हैं प्रभु यीशु की सात वाणियां
    उज्जैन। ईसाई धर्म के लोग गुड फ्राइडे को प्रभु यीशु को क्रूस पर चढ़ाए जाने और मानवता की रक्षा के लिए प्राण देने की याद में मनाते हैं। इस दिन से पहले 40 दिनों तक ईसाई धर्म के लोग व्रत भी रखते हैं। इस बार गुड फ्राइडे 18 अप्रैल, शुक्रवार को है। इसे गुड फ्राइडे इसलिए कहा जाता है, क्योंकि इस दिन प्रभु यीशु ने पापियों के लिए क्रूस पर प्राण देकर समस्त मानवजाति के लिए उद्धार का मार्ग खोल दिया। गुड फ्राइडे के दिन दोपहर 12 से 3 बजे तक गिरिजाघरों में विशेष प्रार्थना होती है, जिसमें यीशु के दु:ख उठाने एवं क्रूस पर...
    April 18, 06:00 AM
  • गणेश चतुर्थी आज, इस व्रत से पूरी होती है भक्त की हर मनोकामना
    उज्जैन। भगवान गणेश सभी दु:खों को हरने वाले हैं। इनकी कृपा से असंभव कार्य भी संभव हो जाते हैं। भगवान गणेश को प्रसन्न करने के लिए प्रत्येक महीने के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को व्रत किया जाता है, इसे गणेश चतुर्थी व्रत कहते हैं। इस बार यह व्रत 18 अप्रैल, शुक्रवार को है। गणेश चतुर्थी का व्रत इस प्रकार करें- व्रत विधि - सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि काम जल्दी ही निपटा लें। - दोपहर के समय अपने सामथ्र्य के अनुसार सोने, चांदी, तांबे, पीतल या मिट्टी से बनी भगवान गणेश की प्रतिमा स्थापित करें। - संकल्प मंत्र के बाद...
    April 18, 06:00 AM
  • वैशाख मास: 14 मई तक ध्यान रखें ये बातें, जानिए क्या करें-क्या नहीं
    उज्जैन। हिंदू पंचांग के अनुसार वर्ष का दूसरा महीना वैशाख होता है। इस बार वैशाख मास का प्रारंभ 16 अप्रैल, बुधवार से हो चुका है, जो 14 मई, बुधवार को समाप्त होगा। हिंदू धर्म ग्रंथों में वैशाख मास से संबंधित कई बातें कहीं गई हैं। उसके अनुसार वैशाख मास में कुछ विशेष कार्य करने चाहिए और कुछ नहीं करने चाहिए। धर्म ग्रंथों के अनुसार जानिए इस महीने में कौन से काम करने चाहिए और कौन से नहीं- धर्मग्रंथों के अनुसार वैशाख में ये काम नहीं करने चाहिए- तैलाभ्यंग दिवास्वापं तथा वै कांस्यभोजनम्। खट्वानिंद्रां...
    April 17, 06:00 AM
  • गुड फ्राइडे कल, प्रायश्चित व प्रार्थना करने का दिन है ये
    उज्जैन। प्रभु ईसा मसीह मानवता के रक्षक थे। उन्होंने ईश्वर के मार्ग पर चलते-चलते अपने प्राणों का त्याग कर दिया। ईसा मसीह के बलिदान की याद में ईसाई समुदाय के लोग पवित्र सप्ताह मनाते हैं। ईसाई धर्म ग्रंथों के अनुसार जिस दिन ईशु ने प्राण त्यागे थे, उस दिन शुक्रवार था। इसी की याद में गुड फ्राइडे मनाया जाता है। इस घटना के तीन दिन बाद ईशु पुन: जीवित हो गए थे, इस दिन को ईस्टर सण्डे कहते हैं। इस बार गुड फ्राइडे 18 अप्रैल, शुक्रवार को तथा ईस्टर सण्डे 20 अप्रैल, रविवार को है। गुड फ्राइडे को होली फ्राइडे, ब्लैक...
    April 17, 06:00 AM
  • क्या आप जानते हैं, क्यों मनाया जाता है गुड फ्राइडे ?
    उज्जैन। गुड फ्राइडे प्रभु यीशु के निर्वाण दिवस के रूप में मनाया जाता है। सही मायनों में यह प्रभु यीशु द्वारा मानवता के लिए प्राण का न्यौछावर करने का दिन है। इस बार गुड फ्राइडे 18 अप्रैल, शुक्रवार को है। धर्म ग्रंथों के अनुसार यीशु मसीह का जन्म इजराइल के एक गांव बैथलहम में हुआ था। बालक यीशु को बैथलहम के राजा हेरोदेस ने मरवाने की हर संभव कोशिश की, लेकिन वह सफल नहीं हो पाया। जब यीशु बड़े हुए तो जगह-जगह जाकर लोगों को मानवता और शांति का संदेश देने लगे। उन्होंने धर्म के नाम पर अंधविश्वास फैलाने वाले...
    April 17, 06:00 AM
Ad Link
 
विज्ञापन
 
 
 

बड़ी खबरें

 
 
 
 

रोचक खबरें

विज्ञापन
 

बॉलीवुड

 
 

स्पोर्ट्स

 

बिज़नेस

 

जोक्स

 

पसंदीदा खबरें