जीवन मंत्र
Home >> Jeevan Mantra >> Dharm >> Upasana
  • प्राचीन मान्यता: रोज सुबह करेंगे ये उपाय तो यमदूत कभी पास नहीं आएंगे
    उज्जैन। मौत के बाद क्या होता है। क्या मरने के बाद आत्मा तुरंत कोई और शरीर धारण कर लेती है या उसे उसके कर्मोे की सजा देने के लिए यमलोक ले जाया जाता है। मौत से जुड़े कुछ ऐसे रहस्य है, जिन्हें हर इंसान जानना चाहता है, लेकिन कभी जान नहीं पाता है। इसलिए मृत्यु से जुड़ी ऐसी ही जिज्ञासाओं को शांत करने के लिए हिंदू धर्म ग्रंथों में मृत्यु व उसके बाद के जीवन से जुड़ी कुछ रोचक बताई गई हैं। पुराणों में जो कथाएं मिलती हैं, उनके अनुसार यम के दूत बड़े ही भयानक और निर्दयी हैं। मौत के समय जब वे आत्मा को अपने साथ...
    December 18, 02:47 AM
  • बुधवार को मोदक का ये छोटा सा उपाय करने से पूरी हो सकती है़, हर मनोकामना
    उज्जैन।हिन्दू धर्म परंपराओं में बुधवार का दिन सभी सुखों का मूल बुद्धि के दाता भगवान श्री गणेश की उपासना का दिन है। श्रीगणेश की प्रसन्नता के लिए कई विधि-विधान शास्त्रों में बताए गए हैं, जो सरल भी हैं व शुभ फलदायी भी। इस दिन श्रीगणेश को विशेष रूप से मोदक या लड्डू चढ़ाने की भी परंपरा है। माना जाता है कि गणेशजी को मोदक बहुत प्रिय है। दरअसल, हिन्दू धर्मशास्त्रों के मुताबिक कलियुग में भगवान गणेश के धूम्रकेतु रूप की पूजा की जाती है। जिनकी दो भुजाएं है,लेकिन मनोकामना पूर्ति के लिए बड़ी आस्था से भगवान...
    December 17, 03:59 AM
  • रामचरितमानस की ये आसान चौपाई बोलने से दूर हो सकती है मनी प्रॉब्लम
    उज्जैन।तुलसीकृत रामचरितमानस की चौपाईयों को बहुत सिद्ध माना जाता है।कुछ चौपाइयां घर या नौकरी से जुड़ी कई परेशानियों से छुटकारा पाने के लिए बड़ी असरदार मानी गई हैं। आज हम आपको बताने जा रहे हैं, कुछ ऐसी ही चौपाईयां जिन्हें बोलने से जीवन की कई जटिल समस्याएं दूर हो सकतीहैं। रामचरितमानस की इन चौपाइयों को बोलने से पहले श्रीराम, सीता, लक्ष्मण, हनुमान सहित राम दरबार की पूजा करें। यथासंभव शांत जगह व उत्तर की ओर मुंह कर 108 बार बोलें। धन-दौलत, सम्पत्ति पाने व बढ़ाने के लिए - जे सकाम नर सुनहि जे गावहि। सुख...
    December 15, 12:28 PM
  • गुरुवार को इन तरीकों से करें शिव पूजा, भाग्य से जुड़ी समस्याएं हो सकती हैं दूर
    उज्जैन।हिंदू धर्म में गुरुवार के दिन को गुरु की आराधना का दिन माना गया है।देव गुरु भगवान शिव जगतगुरु के रूप में भी पूजनीय हैं। गुरु बृहस्पति ने भी शिव कृपा से ही सुराचार्य यानी देवगुरु का पद प्राप्त किया। इसलिए गुरुवार के दिन कोशिव पूजा गुरु दोष शांति करने वाली भी मानी गई है। गुरु दोष से कमजोर बुद्धि, वैवाहिक बाधा या दाम्पत्य में कलह और संतान पीड़ा से गुजरना पड़ता है। कुण्डली में गुरु के कमजोर या बुरे ग्रह योग से बने दोष शिव पूजा से दूर हो जाते हैं, इससे कोई व्यक्ति असफलता या अनिष्ट का सामना...
    December 11, 03:46 PM
  • संकटों का नाश करते हैं भगवान श्री गणेश के 12 नाम
    उज्जैन।रिद्धि और सिद्धि के दाता भगवान गणेश हर तरह से पूजनीय हैं। भगवान गणेश जीवन में सफलता देते हैं। साथ ही हर तरह के संकटो का नाश भी भगवान गणेश करते हैं। किसी भी तरह की मुसीबत में पड़ने पर गणेश जी के संकटनाशक इस मंत्र का जप करना चाहिए। यह मंत्र मुसीबतों से बाहर निकलने में मदद करता हैं। संकटनाशक गणेश मंत्र सुमुखश्चएकदन्तश्च कपिलो गजकर्णकः लम्बोदश्च च विकटो विघ्न नाशो विनायकः धूम्रकेतू गणाध्यक्षो भालचन्द्रो गजाननः द्वादशैतानि नामानि यः पठैच्छ श्रृणुयादपि। विद्यारम्भे विवाहे च...
    November 28, 05:19 PM
  • जानें क्या संकेत मिलते हैं, जब किसी का कुंडलिनी जागरण होने लगता है
    उज्जैन। कहते हैं ध्यान और योग साधना का किसी भी व्यक्ति पर इतना प्रभाव होता है कि वह दिव्य पुरुष बन जाता है। लगातार ध्यान व योग के अभ्यास से शांत चित्त और परमात्मा की प्राप्ति होती है। अधिकांश लोग कुंडलिनी के बारे में तो जानते हैं, लेकिन ये नहीं जानते हैं कि कुंडलिनी जागरण वास्तव में होता है क्या है। दरअसल सच मानों तो कुंडलिनी जिसकी भी जाग्रत हो जाती है उसका संसार में रहना मुश्किल हो जाता है, क्योंकि यह सामान्य घटना नहीं है। संयम और सम्यक नियमों का पालन करते हुए लगातार ध्यान करने से धीरे धीरे...
    November 28, 04:47 PM
  • ग्रंथों से, ये हैं वो 5 चीजें जो किसी को भी ताकतवर बना सकती हैं
    उज्जैन। विदुर एक नीतिज्ञ के रूप में विख्यात हैं। वे महाभारत का एक जाना माना चरित्र हैं, उन्हें कौरवों और पांडवों के काका व पाण्डु के भाई के रूप में भी जाना जाता है। उनका जन्म एक दासी के गर्भ से हुआ था। विदुर धृतराष्ट्र के मन्त्री, लेकिन न्यायप्रियता के कारण पाण्डवों के हितैषी थे। विदुर के ही प्रयत्नों से पाण्डव लाक्षागृह में जलने से बचे थे। युद्ध को रोकने के लिए विदुर ने यत्न किए, लेकिन असफल रहे। इनकी प्रसिद्ध रचना विदुर नीति के अन्तर्गत नीति सिद्धान्तों का सुन्दर निरूपण हुआ है। आज हम आपको बता...
    November 28, 02:44 PM
  • संकटों का नाश करते हैं भगवान श्रीगणेश के 12 नाम
    उज्जैन।रिद्धि और सिद्धि के दाता भगवान गणेश हर तरह से पूजनीय हैं। भगवान गणेश जीवन में सफलता देते हैं। साथ ही हर तरह के संकटो का नाश भी भगवान गणेश करते हैं। किसी भी तरह की मुसीबत में पड़ने पर गणेश जी के संकटनाशक इस मंत्र का जप करना चाहिए। यह मंत्र मुसीबतों से बाहर निकलने में मदद करता हैं। संकटनाशक गणेश मंत्र सुमुखश्चएकदन्तश्च कपिलो गजकर्णकः लम्बोदश्च च विकटो विघ्न नाशो विनायकः धूम्रकेतू गणाध्यक्षो भालचन्द्रो गजाननः द्वादशैतानि नामानि यः पठैच्छ श्रृणुयादपि। विद्यारम्भे विवाहे च...
    November 26, 05:12 PM
  • भगवान श्रीगणेश को प्रसन्न करने के ये हैं कुछ खास शास्त्रोक्त तरीके
    उज्जैन।भगवान श्रीगणेश विद्या और बुद्धि के देवता माने जाते हैं। गणेशजी की आराधना तमाम भौतिक सुख देने वाली व मनोकामनाएं पूर्ण करने वाली मानी जाती है। इसलिए गजानन सुखकर्ता व दुःखहर्ता भी पुकारे जाते हैं। शास्त्रों में ऐसी कामनापूर्ति कर घर-परिवार को खुशहाल बनाने व कलह दूर रखने के लिए गणेश पूजा के कुछ आसान व असरदार उपाय भी बताए गए हैं। जानिए क्यों और कैसे करें सुपारी का यह छोटा उपाय- - सुबह स्नान कर घर के देवालय या श्रीगणेश मंदिर में भगवान गणपति की पूजा करें। - गणेशजी की पूजा के लिए गणपति जी...
    November 26, 03:25 PM
  • दवा लेने के साथ ही बोले ये देवी मंत्र हमेशा के लिए दूर हो सकते हैं ये बड़े रोग
    उज्जैन।हिन्दू धर्म परंपराओं में कुछ ऐसी भी हैं जिन्हें अपनाकरइंसान निरोगी होकर लंबी आयु और सुख पाता है। शास्त्रों में व्यावहारिक उपायों के साथ धार्मिक उपायों को जोड़कर देवी उपासना के कुछ विशेष मंत्रों का स्मरण सामान्य ही नहीं गंभीर रोगों की पीड़ा को दूर करने वाले भी माने गए हैं। इन रोगनाशक मंत्रों का देवी भक्ति के विशेष दिनों में ध्यान अच्छी सेहत के लिए बहुत ही कारगर माना गया है। धार्मिक मान्यता व आस्था है कि हर रोज भी इन मंत्रों का यथासंभव 108 बार जप तन, मन व स्थान की पवित्रता के साथ करने...
    November 19, 03:51 PM
  • रोज ये 10 नाम बोलने से बिना पूजा ही दूर हो जाते हैं शनि से जुड़े सारे दोष
    उज्जैन।हिन्दू धर्मग्रंथों के मुताबिक शनिदेव किस्मत का धनी बनाने वाले देवता हैं, क्योंकि वे दण्डाधिकारी ही नहीं, कर्मयोगी भी हैं। इसलिए माना जाता है कि किसी भी पुरुषार्थी व्यक्ति से शनि प्रसन्न रहते हैं। ऐसी शनि कृपा के लिए ही शनिवार को पूजा, व्रत, दान के धार्मिक उपायों में शास्त्रों में कुछ ऐसे उपाय भी हैं, जो खासकर कामकाजी लोगों के लिए कम वक्त में पूरे होने के साथ-साथ तेजी से तरक्की में असरदार सिद्ध होते हैं। ज्योतिष मान्यताओं में भी कुण्डली में बलवान शनि भाग्यविधाता माने गए है। शनि को...
    November 18, 10:31 AM
  • मान्यता है शिवलिंग पर ऐसे चावल चढ़ाने से मिलती है मां लक्ष्मी की कृपा
    उज्जैन।हिन्दू धर्म में भगवान शंकर सांसारिक सुखों से जुड़े सारे मनोरथ पूरे करने वाले देवता हैं। उनकी प्रसन्नता के लिए धर्मग्रंथों में कई व्रत-उपवास बताए गए हैं। कई भक्त अलग-अलग वजहों से व्रत के धार्मिक विधानों का पालन नहीं कर पाते। इसलिए ऐसे भक्तों के लिए जो व्रत नहीं रख पाते हैं।शिवपुराण में बताए अलग-अलग अनाज का चढ़ावा सुख-सौभाग्य व धन सहित कई मनचाहे फल देने वाला माना गया है। इन उपायों से पहले भगवान शिव की सामान्य पूजा यानी चंदन, बिल्वपत्र, फूल, छोटा सफेद वस्त्र चढ़ाकर करें और इनके साथ...
    November 17, 08:29 AM
  • यदि आपके बच्चे का पढ़ाई में मन नहीं लगता तो करें ये आसान उपाय
    उज्जैन।बच्चों को भगवान की मूरत (मूर्ति) माना जाता है। इसके पीछे उनकी भोली सूरत व बाल मन की सच्चाई़, पावनता और निष्काम भाव भी अहम कारण होते हैं। धर्मशास्त्र भी कहते हैं कि सत्य, पवित्रता और कामनारहित मन, व्यक्ति और स्थान में स्वयं भगवान बसते हैं। दरअसल, जिस तरह ईश्वर भक्ति सकारात्मक ऊर्जा देती है, वैसी ही मानसिक शक्ति बच्चों के संग से भी मिलती है, लेकिन अक्सर बढ़ती उम्र के साथ खास तौर पर पढ़ाई के दौरान परिवार के वातावरण, बातचीत या रहन-सहन की नकारात्मक बातों या फिर किसी प्राकृतिक दोष के प्रभाव से...
    November 15, 05:30 PM
  • आकड़ें और बिल्वपत्र के अलावा शिव इन फूलों से भी होते हैं जल्दी प्रसन्न
    उज्जैन। कहते हैं भगवान शिव भोले हैं यानी वो अपने भक्तों पर बहुत जल्दी कृपा करते हैं। शिव की उपासना करने से जीवन की हर समस्या हल हो सकती है। शिव एक मात्र ऐसे देव हैं, जिनकी उपासना में बिल्वपत्र का चढ़ावा बहुत ही शुभ और पुण्य देने वाला माना जाता है। धार्मिक आस्था है कि बिल्वपत्र का शिव को चढ़ावा जन्म-जन्मान्तर के पाप और दोषों का नाश करता है। वैसे भी शिव की पूजा में कुदरती सामग्रियों के चढ़ावे का महत्व है। इनमें तरह-तरह के पेड़-पौधों के पत्ते, फूल और फल शामिल होते हैं। इसी कड़ी में कम ही शिव भक्त...
    November 10, 04:11 PM
  • शिवपुराण में शिव को प्रसन्न करने के लिए बताया गया है ये खास उपाय
    उज्जैन।शिव कृपानिधी यानी बेहद करुणा से भरे देवता के रूप में पूजनीय है। धार्मिक आस्था से शिव का करुणा भाव ही सांसरिक जीवन में सुख का कारण है। शिव की ऐसी ही प्रसन्नता और कृपा के लिए शिव उपासना में पंचाक्षरी मंत्र यानी नम: शिवाय का ध्यान बहुत ही शुभ और प्रभावकारी माना गया है। शास्त्रों के मुताबिक पंचाक्षरी मंत्र का स्मरण व्यक्ति के जीवन में हर काम और मनोरथ को सिद्ध करने वाला होता है। इस मंत्र के ध्यान मात्र से ही शिव भक्त का जीवन कलह मुक्त रहता है। शिव अपार महिमा का महाग्रंथ शिवपुराण पंचाक्षरी...
    November 8, 03:48 PM
  • शनिवार से शुरू करें ये आसान उपाय, मान्यता है इनसे प्रसन्न हो जाते हैं शनिदेव
    उज्जैन।हिंदू धर्म ग्रंथों में शनिदेव को न्यायाधीश कहा गया है यानीमनुष्य के अच्छे-बुरे कर्मों का फल देना शनिदेव का काम है। इसलिए कहते हैं जिसकी कुंडली में शनिदेव प्रतिकूल स्थान पर बैठे हों उसे जीवन भर किसी न किसी परेशानी का सामना करना पड़ता है।शनि के अशुभ प्रभाव के चलते कई परेशानियों जैसे कारोबार में घाटा, हर काम में असफलता, संतान पीड़ा, शत्रु बाधा, रोगग्रस्त होना आदि का सामना करना पड़ सकता है। ज्योतिष शास्त्रों के मुताबिक भी शनि की महादशा, अन्तर्दशा या कुण्डली में लग्र स्थान, दूसरे, चौथे या...
    November 8, 05:37 AM
  • उज्जैन।हिंदू धर्म ग्रंथों में शनिदेव को न्यायाधीश कहा गया है यानीमनुष्य के अच्छे-बुरे कर्मों का फल देना शनिदेव का काम है। इसलिए कहते हैं जिसकी कुंडली में शनिदेव प्रतिकूल स्थान पर बैठे हों उसे जीवन भर किसी न किसी परेशानी का सामना करना पड़ता है।शनि के अशुभ प्रभाव के चलते कई परेशानियों जैसे कारोबार में घाटा, हर काम में असफलता, संतान पीड़ा, शत्रु बाधा, रोगग्रस्त होना आदि का सामना करना पड़ सकता है। ज्योतिष शास्त्रों के मुताबिक भी शनि की महादशा, अन्तर्दशा या कुण्डली में लग्र स्थान, दूसरे, चौथे या...
    November 7, 05:08 PM
  • जिन पर साढ़ेसाती व ढैय्या का हो असर करें ये धार्मिक उपाय
    उज्जैन। 2 नवंबर यानी आज से शनि देव अपनी राशि बदल रहे हैं। वे तुला से वृश्चिक राशि में प्रवेश कर रहे हैं। जिन लोगों की राशि तुला, वृश्चिक या धनु है तो आप पर साढ़ेसाती के क्रमश: तीसरे, दूसरे व पहले चरण का प्रभाव रहेगा। मेष व सिंह राशि पर ढैय्या का प्रभाव रहेगा। ऐसे में जिन राशियों पर साढ़ेसाती व ढैय्या रहेगा। उन्हें शनि देव को प्रसन्न करने के लिए विशेष तरह के उपाय करने चाहिए ताकि साढ़ेसाती और ढैय्या शुभदायक रहे। - शनिवार को प्रात: ब्रह्म मुहूर्त में उठें और नित्यकर्मों से निवृत्त होकर स्नानादि...
    November 3, 08:26 AM
  • आज के दिन क्यों पूजा जाता है आंवला, जानें इसका धार्मिक और वैज्ञानिक कारण
    उज्जैन। कीर्तिक शुक्लपक्ष की नवमी को आंवला नवमी कहा जाता है। इस दिन आंवले के पेड़ का पूजन कर आरोग्यता के साथ परिवार की सुख-समृद्धि की कामना की जाती है।ऐसी मान्यता है कि आंवला नवमी पर आंवले के पेड़ से अमृत की बूंदें बरसती हैं। यह प्रकृति के प्रति आभार व्यक्त करने की भारतीय संस्कृति का पर्व है। इसके नीचे बैठने और भोजन करने से रोगों का नाश होता है। जानें क्या कहते हैं ग्रंथ- आंवला नवमी पर आंवले के वृक्ष की पूजा और इसके वृक्ष के नीचे भोजन करने की प्रथा की शुरूआत करने वाली माता लक्ष्मी मानी जाती...
    November 1, 10:51 AM
  • कब और कैसे करें Meditation, जानें छोटे-छोटे टिप्स...
    उज्जैन। कहते हैं ध्यान वो चीज है जो किसी आदमी के व्यवहार उसके स्वभाव और जीवन को बदलने की ताकत रखता है। इसके माध्यम से कई रोगों से भी मुक्ति पाई जा सकती है। इसलिए जो लोग जीवन में बदलाव व नई ऊर्जा चाहते है उन्हें रोज कम से कम 15 मिनट ध्यान करना चाहिए। अक्सर कई लोग इस बात से बेचैन रहते हैं कि जब भी वे पूजा-पाठ, नाम-स्मरण या जप करने बैठते हैं तो उनका मन भटकता है। असल में, ध्यान या साधना को गहराई से जानने के लिए उन्हें खुद से ही पहले यह सवाल पूछना चाहिए कि जहां उनका ध्यान जाता है, उसका अभ्यास तो उन्होंने पहले...
    October 27, 03:01 PM
विज्ञापन
 

बड़ी खबरें

 
 

रोचक खबरें

विज्ञापन
 

बॉलीवुड

 
 

स्पोर्ट्स

 

बिज़नेस

 

जोक्स

 

पसंदीदा खबरें