• \'नमाज\' से जुड़ी यह खास बात कम ही लोग जानते हैं
    उज्जैन। इस्लाम धर्म की नींव है- नमाज। इस्लाम धर्म को मानने वाले हर इंसान के लिए जरूरी पांच फर्ज में से नमाज भी एक है। इसके लिये पांव वक्त की नमाज जरूरी बताई गई है। इस्लाम धर्मग्रंथों के मुताबिक पांच वक्त की नमाज से जाने-अनजाने हुए सभी गुनाह मिट जाते हैं। साथ ही उस नमाजी के लिए जन्नत यानी स्वर्ग के दरवाजे खुल जाते हैं। इस तरह नमाज खुदा की रहमत पाने का पवित्र कर्म है और फ़र्ज भी।खास तौर पर रमजान के पवित्र महीने में रोजा और नमाज ज़िंदगी की तमाम परेशानियों से निजात देने वाली मानी गई है। क्या आप...
    July 1, 04:38[IST]
  • पूजा-पाठ व व्रत करने वाले को ध्यान रखना चाहिए ये जरूरी बातें
    उज्जैन। धार्मिक कर्म हो या व्यावहारिक जीवन इच्छाओं को पूरा करने या कार्यसिद्धि के लिए संकल्प का महत्व है। संकल्प को पूरा करना योग्य, कुशल व समर्पित इंसान के लिए संभव है। शास्त्रों में धर्म को साधने के 5 उपायों (व्रत, दान, यज्ञ, सेवा व धर्म प्रचार) में व्रत विधान का खास महत्व बताया गया है। व्रत भी संकल्प का पर्याय माना गया है, जिसके पीछे इच्छा पूर्ति या संकट मुक्ति की भावना होती है। अक्सर व्रत या उपवास मात्र धार्मिक कर्म के नजरिए से रखे जाते हैं, किंतु उनसे जुड़े संयम और व्यवहार के पक्ष को...
    May 9, 04:00[IST]
  • रामायण में है शिव भक्ति से परेशानी दूर करने का यह रामबाण उपाय
    उज्जैन। भगवान शिव महान योगी माने जाते हैं। उनका योग स्वरूप संसार के सुख और आनंद का कारण माना गया है। शास्त्रों के प्रसंग बताते हैं कि शिव की विष्णु और विष्णु की शिव भक्ति जगत कल्याण की वजह बनी। रुद्र अवतार श्रीहनुमान द्वारा विष्णु अवतार श्रीराम की सेवाभक्ति और श्रीराम द्वारा शिव भक्ति कर अधर्म के नाश के लिये लंका प्रस्थान से पहले शिवलिंग पूजा इसका प्रमाण भी है। इसी कड़ी में सांसारिक जीवन में सफलता के सूत्रों से भरा गोस्वामी तुलसीदास द्वारा रचित महान धर्मग्रंथ रामचरितमानस में भी भगवान...
    May 3, 04:02[IST]
  • इस चमत्कारी मंत्र से कर सकते हैं किसी भी देवता का ध्यान, इच्छा होगी पूरी
    उज्जैन। जीवन में तन, मन, धन, ज्ञान, व्यवहार, कर्म आदि बातों में अधूरापन दु:ख की जड़ है। शरीर में रोग विवशता, मन के दोष पाप और कलह, धन की कमी दरिद्रता, कर्म में कमी असफलता, व्यवहार में कमी असहयोग और ज्ञान में कमी तो उपेक्षा, अपमान, अपयश, यहां तक की घातक भी साबित होती है। यही वजह है कि धर्म शास्त्र का ज्ञान व्यावहारिक जीवन में पूर्ण व दक्ष होने की अहमियत बताते हैं। यहां तक कि अधूरेपन में भी पूर्णता व सकारात्मकता को खोजने की दृष्टि सुख के लिए जरूरी मानी गई है। इसी भाव से धर्म शास्त्रों में एक ही ईश्वर में...
    May 3, 04:01[IST]
  • गुड फ्राइडे कल, प्रायश्चित व प्रार्थना करने का दिन है ये
    उज्जैन। प्रभु ईसा मसीह मानवता के रक्षक थे। उन्होंने ईश्वर के मार्ग पर चलते-चलते अपने प्राणों का त्याग कर दिया। ईसा मसीह के बलिदान की याद में ईसाई समुदाय के लोग पवित्र सप्ताह मनाते हैं। ईसाई धर्म ग्रंथों के अनुसार जिस दिन ईशु ने प्राण त्यागे थे, उस दिन शुक्रवार था। इसी की याद में गुड फ्राइडे मनाया जाता है। इस घटना के तीन दिन बाद ईशु पुन: जीवित हो गए थे, इस दिन को ईस्टर सण्डे कहते हैं। इस बार गुड फ्राइडे 18 अप्रैल, शुक्रवार को तथा ईस्टर सण्डे 20 अप्रैल, रविवार को है। गुड फ्राइडे को होली फ्राइडे, ब्लैक...
    April 17, 06:00[IST]
  • उगते सूर्य के सामने शिव का इस मंत्र से ध्यान करता है भाग्योदय
    उज्जैन। हिन्दू धर्म मान्यताओं में पंचदेव पूजा का महत्व है। पंचदेव यानी एक ही ईश्वर के पांच स्वरूप, जो भगवान गणेश, शिव, सूर्य, दुर्गा और विष्णु के रूप में पूजनीय है, जो अलग-अलग शक्तियों के रूप में जगत रचना, पालन और संहार का नियंत्रण करते हैं। शिवपुराण में भी सूर्यदेव को शिव का स्वरूप व नेत्र भी बताया गया है, जो एक ही ईश्वरीय सत्ता का प्रमाण है। सूर्य और शिव की उपासना जीवन में सुख, स्वास्थ्य, काल भय से मुक्ति और शांति देने वाली मानी गई है। सूर्य की उपासना रविवार को बहुत शुभ मानी जाती है। वहीं सोमवार...
    April 13, 06:16[IST]
विज्ञापन
 

बड़ी खबरें

 
 
 
 
 
 
 
 
 

रोचक खबरें

 
 
 
 
 
 
विज्ञापन
 

बॉलीवुड

 
 
 
 
 
 
 

स्पोर्ट्स

 
 
 
 
 
 

बिज़नेस

 
 
 
 
 
 

जोक्स

 
 
 
 
 
 

पसंदीदा खबरें

 
 
 
 
 
 

फोटो फीचर