Home» Jeevan Mantra »Jyotish »Jyotish Nidaan » जानिए आपकी जन्म कुंडली किस लग्न की है?

जानिए आपकी जन्म कुंडली किस लग्न की है?

धर्म डेस्क. उज्जैन | Aug 12, 2011, 11:16AM IST
जानिए आपकी जन्म कुंडली किस लग्न की है?

ज्योतिष के अनुसार हमारी कुंडली में ग्रहों की स्थिति से ही हमारे भूत, भविष्य और वर्तमान की जानकारी प्राप्त हो जाती है। कुंडली का अध्ययन करते समय इस बात का भी गहरा महत्व है कि जन्म कुंडली किस लग्न की है?

जन्म कुंडली में जो बारह खाने या घर रहते हैं। जिन्हें द्वादश भाव कहा जाता है। भृगु संहिता के अनुसार जिस प्रकार इन भावों की संख्या बारह होती है ठीक वैसे ही राशियों की संख्या बारह ही है। व्यक्ति के जन्म समय पर जिस राशि की लग्न चलती रहती है, व्यक्ति की पत्रिका उसी लग्न के अनुसार रहती है।

उदाहरण के लिए यदि किसी व्यक्ति का जन्म वृष लग्न में हुआ हो तो उसे उसकी जन्म कुंडली में वृष राशि को प्रथम भाव में स्थापित किया जाएगा। इसके बाद अगले भावों में क्रमश: मिथुन, कर्क, सिंह, कन्या, तुला, वृश्चिक, धनु, मकर, कुंभ, मीन और मेष राशि को स्थापित किया जाता है।

जानिए आपकी जन्मकुंडली किस लग्न की है-

हमारी कुंडली में ग्रहों के साथ 1 से 12 तक अंक भी लिखे होते हैं। इन्हीं अंकों से मालुम होता है कि कुंडली किस लग्न की है? कुंडली के प्रथम भाव यानि लग्न भाव में लिखे अंक के आधार पर कुंडली का लग्न मालुम किया जाता है। यहां चित्र में बताया जा रहा है कि लग्न भाव किसे कहते हैं-

यहां नंबर 1 का अर्थ है मेष, इसी प्रकार नंबर 2 यानि वृषभ, 3 यानि मिथुन, 4 का अर्थ है कर्क, 5 यानि सिंह, 6 का अर्थ कन्या, 7 का मतलब है तुला, 8 का अर्थ वृश्चिक, 9 का मतलब है धनु, 10 का अर्थ है मकर, 11 का कुंभ और अंत में नंबर 12 का अर्थ मीन राशि। इस प्रकार जो अंक लग्न भाव में लिखा रहता है आपकी कुंडली उसी लग्न की मानी जाएगी।

  
KHUL KE BOL(Share your Views)
 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

Email Print Comment