Home» Jeevan Mantra »Jyotish »Desh Duniya » Jyts- Panchak Start From Today: 5 Work Do Not Until 14, Might Be Unusual.

पंचक शुरू: 14 तक न करें ये 5 काम, हो सकती है अनहोनी

धर्म डेस्क. उज्जैन | Feb 11, 2013, 10:40AM IST
1 of 6

भारतीय ज्योतिष के अनुसार जब चन्द्रमा कुंभ और मीन राशि पर रहता है तब उस समय को पंचक कहते हैं। यानी घनिष्ठा से रेवती तक जो पांच नक्षत्र (धनिष्ठा, शतभिषा, पूर्वा भाद्रपद, उतरा भाद्रपद एवं रेवती) होते है उन्हे पंचक कहा जाता है।

कुछ विद्वानों ने इन नक्षत्रों को अशुभ माना है इसलिए पंचक में कुछ कार्य विशेष नहीं किए जाते हैं। इस बार पंचक का प्रारंभ 10 फरवरी, रविवार की शाम 05 बजकर 07 मिनिट से हो रहा है जो 14 फरवरी, गुरुवार को 06 बजकर 05 मिनिट रात अंत तक रहेगा।
 

नक्षत्रों का प्रभाव

- धनिष्ठा नक्षत्र में अग्नि का भय रहता है।
- शतभिषा नक्षत्र में कलह होने के योग बनते हैं।
- पूर्वाभाद्रपद रोग कारक नक्षत्र होता है।
- उतराभाद्रपद में धन के रूप में दण्ड होता है।
- रेवती नक्षत्र में धन हानि की संभावना होती है।

पंचक में कौन से 5 कार्य नहीं करना चाहिए, ये जानने के लिए अगली स्लाइड्स पर क्लिक करें-

ये भी पढ़िए
PICS: जानिए, आपके बेडरूम और पलंग से जुड़ी कुछ खास बातें
PICS: शरीर के ये काले निशान बताते हैं आपके बारे में कुछ खास बातें
कोई भी नया काम शुरु करने से पहले ध्यान रखें ये बातें
जानिए, रात के समय श्मशान जाना क्यों हो सकता है खतरनाक
न्यूमरोलॉजीः ये 7 दिन कैसे रहेंगे आपके लिए अंक ज्योतिष से जानिए
काम की बात: नहाने के पहले भोजन क्यों नहीं करना चाहिए
TUESDAY स्पेशल: सपने में दर्शन देंगे हनुमान, करिए ये आसान उपाय!
PICS: कौआ भी बताता है भविष्य में होने वाली घटनाओं के बारे में
PICS: गुप्त नवरात्रि 11 से, जानिए क्यों खास हैं ये नौ दिन
घर में नहीं रखें बंद घड़ी और ध्यान रखें ये खास टिप्स

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
10 + 9

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment