Home» Jeevan Mantra »Jyotish »Desh Duniya » Jyts- Panchak: Do Not Forget These 5 Things, You Might Have Trouble.

पंचक: भूलकर भी न करें ये 5 काम, पड़ सकते हैं मुसीबत में

धर्म डेस्क. उज्जैन | Dec 17, 2012, 07:00AM IST
1 of 6

भारतीय ज्योतिष के अनुसार जब चन्द्रमा कुंभ और मीन राशि पर रहता है तब उस समय को पंचक कहते हैं। यानी घनिष्ठा से रेवती तक जो पांच नक्षत्र (धनिष्ठा, शतभिषा, पूर्वा भाद्रपद, उतरा भाद्रपद एवं रेवती) होते है उन्हे पंचक कहा जाता है। कुछ विद्वानों ने इन नक्षत्रों को अशुभ माना है इसलिए पंचक में कुछ कार्य विशेष नहीं किए जाते हैं। इस बार पंचक का प्रारंभ 17 दिसंबर, सोमवार की रात 01 बजकर 25 मिनिट से हो रहा है जो 22 दिसंबर, शनिवार को दिन के 03 बजकर 02 मिनिट तक रहेगा।
नक्षत्रों का प्रभाव
- धनिष्ठा नक्षत्र में अग्नि का भय रहता है।
- शतभिषा नक्षत्र में कलह होने के योग बनते हैं।
- पूर्वाभाद्रपद रोग कारक नक्षत्र होता है।
- उतराभाद्रपद में धन के रूप में दण्ड होता है।
- रेवती नक्षत्र में धन हानि की संभावना होती है।

आगे की स्लाइड्स में जानिए पंचक में कौन से 5 काम नहीं करना चाहिए-

 

आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
4 + 5

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment