Home» Jeevan Mantra »Dharm »Utsav »Utsav Aaj » Utsav- Vaman Dwadshi Tomorrow: Get It Fast With This Method, Will Be Fulfilled Wishes.

वामन द्वादशी कल: इस विधि से करें ये व्रत, पूरी होगी हर मनोकामना

धर्म डेस्क. उज्जैन | Sep 15, 2013, 07:00AM IST
वामन द्वादशी कल: इस विधि से करें ये व्रत, पूरी होगी हर मनोकामना
भाद्रपद मास के शुक्लपक्ष की द्वादशी तिथि को वामन द्वादशी या वामन जयंती कहते हैं। श्रीमद्भागवत के अनुसार इसी तिथि को श्रवण नक्षत्र में अभिजित मुहूर्त में भगवान वामन का प्राकट्य हुआ था। इस बार वामन द्वादशी 16 सितंबर, सोमवार को है। 
वैष्णव भक्तों को इस दिन उपवास करना चाहिए। सुबह स्नानादि से निवृत्त होकर वामन द्वादशी व्रत का संकल्प लेना चाहिए। दोपहर(अभिजित मुहूर्त) में भगवान वामन का पंचोपचार अथवा षोडषोपचार पूजन करना चाहिए। इसके पश्चात एक बर्तन में चावल, दही और शक्कर रखकर किसी योग्य ब्राह्मण को दान करना चाहिए। शाम के समय व्रती(व्रत करने वाला) को पुन: स्नान करने के बाद भगवान वामन का पूजन करना चाहिए और व्रत कथा सुननी चाहिए। इसके बाद ब्राह्मण को भोजन कराना चाहिए और स्वयं फलाहार करना चाहिए। 
इस तरह व्रत व पूजन करने से भगवान वामन प्रसन्न होते हैं और भक्तों की हर मनोकामना पूरी करते हैं।
 
आपके विचार
 
अपने विचार पोस्ट करने के लिए लॉग इन करें

लॉग इन करे:
या
अपने बारे में बताएं
 
 

दिखाया जायेगा

 
 

दिखाया जायेगा

 
कोड:
8 + 3

 
विज्ञापन

बड़ी खबरें

रोचक खबरें

विज्ञापन

बॉलीवुड

स्पोर्ट्स

जोक्स

पसंदीदा खबरें

फोटो फीचर

 
Email Print Comment